स्विगी, वेदांतु और एडॉब में सैकड़ों कर्मचारियों की छंटनी, आगे और छंटनी होगी 

मुंबई- स्विगी, वेदांतु और एडॉब सैकड़ों कर्मचारियों को निकालने की योजना बना रही हैं। स्विगी दिसंबर में 250 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की योजना बना रही है। फूड एंड ग्रॉसरी डिलीवरी कंपनी आने वाले महीनों में और लोगों को हटाएगी। कंपनी का कहना है कि प्रदर्शन के आधार पर छंटनी होगी। इसने पहले ही कर्मचारियों को इस बारे में जानकारी दी थी। साथ ही टीमों के पुनर्गठन की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। स्विगी को वित्त वर्ष 2021 में 1,617 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। उसके पहले यह 3,920 करोड़ रुपये था। 

इसी तरह वेदांतु ने भी 385 कर्मचारियों की छंटनी की है। यह उसके कुल कर्मचारियों का 11.6 फीसदी हिस्सा है। यह एडटेक फर्म खर्च की लागत में कटौती करने और मौजूदा संसाधनों के साथ अधिक लाभ कमाने के लिए लोगों को नौकरी से निकाल रही है। इस साल अब तक वेदांतु ने लगभग 1,100 कर्मचारियों को निकाल दिया है। अब कंपनी में 3,300 से के करीब लोग हैं।  

लागत बचाने का उपाय केवल कर्मचारियों तक ही सीमित नहीं है। कंपनी के सह-संस्थापक और कई अन्य सदस्य भी इसका हिस्सा हैं। उन्होंने अपने वेतन में 50 फीसदी की कटौती की है। एडॉब ने खर्च कम करने के लिए बिक्री विभाग के 100 लोगों को हटा दिया। हालांकि, इसका कहना है कि वह कुछ लोगों को दूसरे विभाग में भेज रही है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *