चालू वित्त वर्ष में रिकॉर्ड 21 लाख करोड़ रुपये का हुआ निवेश, यूपी सबसे आगे 

मुंबई- चालू वित्त वर्ष में सितंबर तक कुल 21 लाख करोड़ रुपये का निवेश हुआ है। इसमें से सरकार का हिस्सा 12.3 लाख करोड़ रहा है। जिसमें 7 लाख करोड़ केंद्र का और 5.2 लाख करोड़ राज्य सरकारों का है। निजी कंपनियों का 7 लाख करोड़ रुपये निवेश रहा है। एक साल पहले यह 6.4 लाख करोड़ रुपये था।  

सरकार और निजी कंपनियां दोनों का यह निवेश अब तक का सार्वकालिक स्तर का है। ऐसी उम्मीद है कि पूरे साल के दौरान सरकार का निवेश 14 लाख करोड़ को पार कर सकता है जो बजट अनुमान से ज्यादा रहेगा। केंद्र के खर्च में एक लाख करोड़ रुपये वह भी शामिल है, जो उसने राज्यों को उधारी दिया है। 

आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज की एक रिपोर्ट के अनुसार, ज्यादातर निवेश एनर्जी, पावर, खनन, इन्फ्रा, निर्माण सामग्री, रियल एस्टेट, डिजिटल इन्फ्रा, उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजनाओं (पीएलआई) पर हुआ है। आंकड़ों के मुताबिक, वित्त वर्ष 2013 में कुल निवेश 8.9 लाख करोड़ रुपये था जो 2022 में 21 लाख करोड़ को पार कर गया। रिपोर्ट के अनुसार, आने वाले समय में निवेश में और तेजी आएगी।  

अब तक जिन बड़ी कंपनियों ने निवेश की घोषणा की है उसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एनर्जी, रिन्यूएबल एनर्जी और ग्रीन हाइड्रोजन के क्षेत्र में 10-15 सालों में 5,950 अरब रुपये के निवेश की घोषणा की है। जबकि जियो और केमिकल के क्षेत्र में अगले तीन साल में यह 2,750 अरब रुपये का निवेश करेगी। 

वेदांता ने सेमीकंडक्टर प्रोजेक्ट पर 2-3 साल में 1,540 अरब रुपये, अदाणी ग्रीन ने रिन्यूएबल एनर्जी पर 10 साल में 1,500 अरब रुपये, ओएनजीसी, बीपीसीएल, एचपीसीएल, आयल इंडिया और गेल ने एक साल में तेल और गैस पर 1,100 अरब रुपये के निवेश की घोषणा की है। इनके अलावा आर्सलर मित्तल, हिंडालको, एनटीपीसी, अमेजन वेब सर्विसेस ने भी विभिन्न क्षेत्रों में 8 सालों में 2,400 अरब रुपये के निवेश की घोषणा की है। 

रिपोर्ट के अनुसार, आंध्र प्रदेश में 2022 में 16,795 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है। जबकि गुजरात में 28,183 करोड़, कर्नाटक में 50,310 करोड़, तमिलनाडु में 36,321 करोड़, केरल में 13,851 करोड़ रुपये और पश्चिम बंगाल में 17,619 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है। सबसे ज्यादा यूपी में निवेश हुआ है जो 70,197 करोड़ रुपये है। बिहार में 24,091 करोड़, हरियाणा में 9,843 करोड़, राजस्थान में 26,176 करोड़ और महाराष्ट्र में 46,541 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *