अगले हफ्ते चार कंपनियों के आएंगे आईपीओ, जानिए उनकी तारीख और भाव 

मुंबई- नवंबर के पहले सप्ताह में 4 कंपनियों का आईपीओ खुल रहा है। इस आईपीओ के जरिए ये सभी कंपनियां 4500 करोड़ रुपये जुटाने का प्रयास करेंगी। बता दें, ये 4 कंपनियां – डीसीएक्स सिस्टम, ग्लोबल हेल्थ. बिकाजी फूड्स और फ्यूजन माइक्रो है।  

ग्लोबल हेल्थ आईपीओ का प्राइस बैंड  

मेदांता ब्रांड के तहत अस्पतालों का परिचालन और मैनेजमेंट करने वाली कंपनी ग्लोबल हेल्थ लिमिटेड ने अपने 2,206 करोड़ रुपये के आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 319-336 रुपये प्रति शेयर का तय किया है। कंपनी की शुरुआती शेयर बिक्री 3 से 7 नवंबर के दौरान सार्वजनिक सदस्यता के लिए खुलेगी। कंपनी के मुताबिक एंकर निवेशकों के लिए बोली दो नवंबर को खुलेगी। आईपीओ में 500 करोड़ रुपये के नये शेयर जारी किए जायेंगे। इसके अलावा इसमें 5.08 करोड़ शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) इसमें शामिल है।  

फ्यूजन आईपीओ का प्राइस बैंड  

वैश्विक निजी इक्विटी कंपनी वारबर्ग पिंकस समर्थित फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस ने अपने 1,104 करोड़ रुपये के आईपीओ के लिए मूल्य दायरा 350-368 रुपये प्रति शेयर तय किया है। कंपनी के अनुसार, शुरुआती शेयर बिक्री दो नवंबर को सार्वजनिक सदस्यता के लिए खुलेगी और चार नवंबर को बंद होगी। एंकर निवेशक शेयरों के लिए एक नवंबर को बोली लगा सकेंगे। आईपीओ में 600 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किये जायेंगे। इसके अलावा कंपनी के प्रवर्तक और मौजूदा शेयरधारक 1,36,95,466 शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) लायेंगे। कंपनी को नये निर्गम से 1,104 करोड़ रुपये जुटाने की उम्मीद है।  

डीसीएक्स आईपीओ का प्राइस बैंड  

केबल और वायर एसेंबल करने वाली कंपनी डीसीएक्स सिस्टम का आईपीओ सोमवार से खुल रहा है। कंपनी का आईपीओ 2 नवंबर 2022 तक खुला रहेगा। डीसीएक्स सिस्टम्स ने इक्विटी शेयरों के अपने फ्रेश इश्यू के साइज को घटाकर 400 करोड़ रुपये कर दिया है, पहले यह 500 करोड़ रुपये का था। फ्रेश इश्यू के अलावा, IPO में प्रमोटर्स की तरफ से इक्विटी शेयरों का ऑफर फॉर सेल (OFS) शामिल है, जो कि 100 करोड़ रुपये तक का है। 

बिकाजी आईपीओ का प्राइस बैंड  

बिकाजी का भी आईपीओ अगले सप्ताह खुल सकता है। बैंकर्स के अनुसार कंपनी इस आईपीओ के जरिए 900 करोड़ रुपये जुटाना चाह रही है। मौजूदा शेयर होल्डर्स और प्रमोटर्स 29.37 शेयर की पेशकश लाएंगे। कंपनी ने हालांकि अभी तक प्राइस बैंड इत्यादि की डीटेल्स साझा नहीं की है।  

साल 2021 के मुकाबले 2021 के लिहाज से ये साल काफी शांति भरा रहा है। शुरुआती तीन महीनों के दौरान सिर्फ तीन कंपनियों का आईपीओ ही आया था। लेकिन मार्च के बाद 19 कंपनियों का आईपीओ मार्केट में आया था। इस साल अबतक आईपीओ के जरिए कंपनियों ने 44,085 करोड़ रुपये जुटाए हैं। जबकि साल 2021 में 63 कंपनियों ने आईपीओ के जरिए 1.19 लाख करोड़ रुपये जुटाए थे। रूस-यूक्रेन युद्ध और बढ़ती महंगाई ने कंपनियों को अपने प्लान से पीछे हटने पर मजबूर कर दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *