4 आईपीओ लाएगी पतंजलि, एक लाख करोड़ कारोबार का लक्ष्य

नई दिल्ली। योग गुरू रामदेव ने कहा है कि अगले पांच साल में उनकी चार कंपनियां आईपीओ लेकर आएंगी। इसके साथ ही 5-7 वर्षों में समूह ने एक लाख करोड़ रुपये के कारोबार का लक्ष्य रखा है। फिलहाल 40,000 करोड़ रुपये का कारोबार है। इससे 5 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा। शुक्रवार को नई दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने वाली कंपनियों में कंज्यूमर गुड्स, मेडिसीन, वेलनेस और लाइफ स्टाइल वाली कंपनियां होंगी। 2006 में पतंजलि को शुरू करने वाले रामदेव ने कहा, पतंजलि आयुर्वेद को शुरू में सूचीबद्ध कराया जाएगा। दूसरी कंपनी के रूप में पतंजलि मेडिसीन को सूचीबद्ध कराया जाएगा। फिलहाल केवल एक कंपनी पतंजलि फूड्स ही शेयर बाजार में सूचीबद्ध है। इसका बाजार पूंजीकरण 50,000 करोड़ रुपये के करीब है।

समूह ने 2019 में रुचि सोया इंडस्ट्रीज को 43,00 करोड़ रुपये में खरीदा था और इसका नाम बदलकर इस साल पतंजलि फूड्स कर दिया था। रामदेव का एफएमसीजी कारोबार का मूलरूप से हिंदुस्तान यूनिलीवर, प्रोक्टर एंड गैंबल और कोलगेट से टक्कर है। पतंजलि फुड्स पाम तेल प्लांटेशन की योजना बना रही है और साथ ही 50 अरब रुपये के कारोबार का लक्ष्य रखी है।

रामदेव ने कहा कि हमारी योजना पतंजलि वेलनेस के तहत 25,000 बिस्तरों का संचालन करने की है। अभी हमारे 50 केंद्र हैं जिसे बढ़ाकर 100 करने की है। इसमें आईपीडी और ओपीडी होंगे साथ ही फ्रेंचाइजी मॉडल भी होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.