बाजार पूंजीकरण में एलआईसी 13वें स्थान पर, एसबीआई 5 लाख करोड़ क्लब में  

मुंबई- लगातार शेयरों की पिटाई के चलते एलआईसी बाजार पूंजीकरण के मामले में अब 13वें स्थान पर चली गई है। बुधवार को इसका पूंजीकरण 4.15 लाख करोड़ रुपये रहा। इश्यू भाव के आधार पर यह 6 लाख करोड़ रुपये आंका गया था। यानी निवेशकों को 1.85 लाख करोड़ रुपये का घाटा हुआ है।  

उधर, देश का सबसे बड़ा बैंक एसबीआई पहली बार 5 लाख करोड़ के पार हो गया है। इसका बाजार पूंजीकरण 5.15 लाख करोड़ रहा और 572 रुपये के रिकॉर्ड पर पहुंच गया। शीर्ष 10 में 3 बैंकों के शेयर हैं। एसबीआई इस क्लब में शामिल होने वाला तीसरा बैंक है। एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक पहले ही यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं।  

एचडीएफसी बैंक का मार्केट कैप 841,729.92 करोड़ रुपये और आईसीआईसीआई बैंक का मार्केट कैप 636,263.22 करोड़ रुपये है। मार्केट कैप के हिसाब से एसबीआई सातवें स्थान पर है। इस लिस्ट मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज 17, 54,603 करोड़ रुपये के मार्केट कैप के साथ पहले और टीसीएस (TCS) 1,142,355 करोड़ रुपये के साथ दूसरे स्थान पर है। इन्फोसिस पांचवें, एचयूएल पांचवें, बजाज फाइनेंस आठवें, अडानी ट्रांसमिशन नौवें और एचडीएफसी दसवें नंबर पर है। 

पिछले तीन साल में एसबीआई के शेयर में 26 फीसदी तेजी आई है जबकि इस दौरान बीएसई सेंसेक्त 13.9 फीसदी चढ़ा है। इस पीरियड में आईसीआईसीआई बैंक में 32 फीसदी और एचडीएफसी बैंक में 15 फीसदी तेजी आई है। एसबीआई देश का सबसे बड़ा बैंक है जिसकी बैलेंस शीट का साइज करीब 54 लाख करोड़ रुपये का है। सरकारी बैंकों में इसका रिटेल पोर्टफोलियो और ऑपरेटिंग मीट्रिक्स सबसे बेहतर है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.