रोजाना 235 रुपये जमा कर तैयार करें 54 लाख रुपये का फंड  

मुंबई- इंश्योरेंस और बचत आज के समय की दो बड़ी जरूरते हैं। इंश्योरेंस कोई अनहोनी हो जाने पर आपके परिजनों को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करता है। वहीं, आपके बड़े खर्चों को पूरा करने के लिए बचत बहुत जरूरी है। एलआईसी अपनी पॉलिसीज में ग्राहकों को इंश्योरेंस और बचत दोनों की सुविधा देती है।  

ऐसी ही एक योजना एलआईसी जीवन लाभ स्कीम है। यह स्कीम ग्राहकों को बचत, बढ़िया रिटर्न और बीमा सुरक्षा तीनों प्रदान करती है। इस योजना के माध्यम से आप अच्छा-खासा फंड जमा कर सकते हैं। आप सिर्फ रोजाना 253 रुपये निवेश करके 54 लाख रुपये का फंड तैयार कर सकते हैं। 

ग्राहकों को लॉन्ग टर्म प्रोटेक्शन का आनंद लेने के लिए तय समय के लिए प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है। पॉलिसीधारक 2 साल के लिए नियमित रूप से प्रीमियम का भुगतान करने के बाद इस स्कीम पर लोन भी उठा सकते हैं। यह सरेंडर वैल्यू के 90% तक मिल सकता है। 

यह प्लान 5, 10 या 15 वर्षों की किस्तों में डेथ और मैच्योरिटी बेनिफिट प्राप्त करने के विकल्प की भी पेशकश करता है। अगर प्लान को किसी बच्चे के लिए खरीदा जाता है, तो माता-पिता पॉलिसी के साथ एलआईसी के राइडर को जोड़ सकते हैं। यदि माता-पिता की मृत्यु हो जाती है, तो एलआईसी भविष्य के प्रीमियम को माफ कर देती है। इससे बच्चे को पॉलिसी को चालू रखने के लिए प्रीमियम का बोझ नहीं उठाना पड़ता। 

यदि बीमित राशि 5 लाख और उससे अधिक है, तो प्रीमियम राशि पर छूट का लाभ उठाया जा सकता है। मान लीजिए आप 25 साल की उम्र में एलआईसी की जीवन लाभ पॉलिसी लेते हैं। मैच्योरिटी पर 54 लाख रुपये पाने के लिए आपको पॉलिसी की अवधि 25 साल रखनी होगी। साथ ही आपको बीमा के लिए 20 लाख रुपये की राशि चुननी होगी।  

अब आप हर साल 92,400 रुपये प्रीमियम के रूप में जमा करेंगे। महीने के हिसाब से देखें तो यह 7,700 रुपये और रोजाना के हिसाब से 253 रुपये होगा। इसके बाद जब पॉलिसी पक जाएगी तो आपको 54.50 लाख रुपये मिलेंगे। पॉलिसी के प्रीमियम के रूप में एक वित्त वर्ष में भुगतान की गई अधिकतम 1.5 लाख रुपये की राशि आयकर अधिनियम की धारा 80C के तहत कर छूट के योग्य है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.