स्टारबक्स की कमान संभालेंगे भारतीय, लक्ष्मण बनेंगे नए सीईओ 

मुंबई- गूगल, ट्विटर जैसी कई बड़ी कंपनियों के बाद अब एक और दिग्गज इंटरनेशनल कंपनी स्टारबक्स ने भी एक भारतीय को CEO चुना है। ग्लोबल कॉफी चेन स्टारबक्स ने गुरुवार को भारतीय मूल के लक्ष्मण नरसिम्हन को अपना नया चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर (CEO) बनाने की घोषणा की है। 

स्टारबक्स ने कहा है कि लंबे समय से पेप्सिको के एक्जीक्यूटिव रहे लक्ष्मण नरसिम्हन लंदन से सिएटल में आने के बाद 1 अक्टूबर 2022 को स्टारबक्स में शामिल होंगे। क्योंकि, स्टारबक्स सिएटल में है। लक्ष्मण नरसिम्हन 1 अप्रैल 2023 तक स्टारबक्स के अंतरिम CEO हॉवर्ड शुल्त्स के साथ मिलकर काम करेंगे। इसके बाद लक्ष्मण अपना CEO रोल अपनाएंगे और कंपनी के बोर्ड में शामिल होंगे। 

हॉवर्ड शुल्त्स ने कहा कि लक्ष्मण नरसिम्हन कंपनी को लीड करने के लिए बेस्ट हैं। नरसिम्हन का मैच्योर और इमरजिंग मार्केट दोनों में ग्रोथ का ट्रैक रिकॉर्ड बहुत ही शानदार है। जैसा कि मुझे उन्हें जानने का मौका मिला है। यह स्पष्ट हो गया है कि वे ह्यूमैनिटी में निवेश करने के हमारे जुनून और हमारे पार्टनर्स, कस्टमर्स और कम्युनिटीज के लिए हमारे कमिटमेंट को आगे ले जाएंगे। 

शुल्त्स लंबे समय तक स्टारबक्स के CEO रहे थे। जिन्होंने 1987 में  

स्टारबक्स को खरीदने के बाद इसे आगे बढ़ाया। पूर्व CEO केविन जॉनसन के रिटायरमेंट अनाउंस करने के बाद शुल्त्स मार्च में कंपनी के इंटरिम CEO बने। शुल्स अब नरसिम्हन के पदभार संभालने के बाद भी कंपनी के बोर्ड में शामिल रहेंगे। 

55 साल के नरसिम्हन UK की कंपनी रेकिट के CEO थे। रेकिट ने गुरुवार को नरसिम्हन के अचानक कंपनी छोड़ने की घोषणा की थी। इसके बाद रेकिट के शेयर में 5% की गिरावट देखने को मिली थी। इससे पहले नरसिम्हन ने पेप्सिको में CEO, ग्लोबल चीफ कमर्शियल ऑफिसर समेत कई लीडरशिप रोल निभाए थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.