अदाणी समूह की कंपनियों में दो सालों में 112 अरब डॉलर की बढ़ोतरी 

मुंबई- अदाणी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों की कीमतों में जबरदस्त उछाल के कारण गौतम अदाणी दुनिया के तीसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। उनकी संपत्ति 142.7 बिलियन डॉलर हो गई है। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के अनुसार दुनिया की अमीरों की लिस्ट में शीर्ष 3 लिस्ट में जगह बनाने वाले गौतम अदाणी पहले एशियाई है।  

अदाणी ग्रुप की कंपनियों की होल्डिंग में पिछले दो वर्षों में 112 बिलियन डॉलर की बढ़ोतरी हुई है। यह दुनिया में किसी भी अरबपति की तुलना में सबसे ज्यादा है। पिछले दो वर्षों में गौतम अदाणी की संपत्ति में 365% का इजाफा हुआ है। उनकी संपत्ति 30.7 बिलियन डॉलर से बढ़कर 142.7 बिलियन डालर हो गई है। इन दो वर्षों के दौरान वे दुनिया के अमीरों की लिस्ट में 40वें नंबर से तीसरे नंबर पर पहुंच गए हैं।  

अंदाणी ग्रुप की कंपनियों के प्रदर्शन से भारतीय शेयर बाजार को भी मदद मिली है। देश की कंपनियों के मार्केट कैपिटलाइजेशन में 79% इजाफा अदाणी ग्रुप की सात लिस्टेड कंपनियों से हुआ है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सभी लिस्टेड कंपनियों का बाजार पूंजीकरण बढ़कर वर्ष 2022 में 12.74 लाख करोड़ रुपये बढ़ा है। इसमें 10.05 लाख करोड़ रुपये का योगदान सिर्फ अदाणी ग्रुप की सात लिस्टेड कंपनियों ने दिया है। वहीं दूसरी ओर दिग्गज कंपनियों टीसीएस, इंफोसिस, विप्रो, एलआईसी, एचसीएल टेक जैसी कंपनियों के मार्केट कैप इस वर्ष आठ लाख करोड़ रुपये की कमी आई है।  

वर्ष 2022 में निफ्टी इंडेक्स में महज एक प्रतिशत का इजाफा हुआ है जबकि अदाणी समूह की सात लिस्टेड कंपनियों के शेयर कीमतों में औसतन 127% का इजाफा हुआ है। अदाणी ग्रुप की कंपनी अदाणी पावर के शेयरों में तो 313% तक का इजाफा हुआ है। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ने गुरुवार को बताया है कि उसके प्रमुख इंडेक्स निफ्टी में 30 सितंबर से बदलाव होगा।  

30 सितंबर के बाद निफ्टी फिफ्टी में अदाणी इंटरप्राइजेस की एंट्री होगी। अदाणी इंटरप्राइजेस को इस इंडेक्स में श्री सीमेंट का स्थान लेगी। अदाणी समूह की यह दूसरी कंपनी होगी जिसे निफ्टी फिफ्टी इंडेक्स में स्थान मिलेगा। अदाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन पहले से इस इंडेक्स का हिस्सा है। वर्ष 2022 में अब तक अदाणी इंटरप्राइजेस के शेयरों में 88 फीसदी की तेजी आई है वहीं दूसरी ओर श्रीसीमेंट के शेयरों की कीमत 21% तक घटी है। 

साल 2022 में ही गौतम अदाणी की कंपनियों की होल्डिंग में 66.2 बिलियन की वृद्धि हुई है। अदाणी ग्रुप की कंपनियों ने मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में भारतीय स्टेट बैंक, बजाज फाइनेंस, एचडीएफसीए, भारती एयरटेल और एलआईसी जैसी ब्लू चिप कंपनियों को भी पछाड़ दिया है।  

इस वर्ष सिर्फ दो भारतीयों गौतम अदाणी और मुकेश अंबानी ने दुनिया के टॉप 10 अमीरों की लिस्ट में जगह बनाई है। गौतम अदाणी की संपत्ति में इस वर्ष 62 बिलियन डॉलर का इजाफा हुआ है जबकि मुकेश अंबानी की संपत्ति चार बिलियन डॉलर बढ़ी है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.