एनडीटीवी पर जबरदस्ती कब्जा की अदाणी की तैयारी, एनडीटीवी ने लिया था कर्ज 

मुंबई- एशिया के सबसे अमीर बिजनेसमैन गौतम अडाणी NDTV पर कब्जा करने की तैयारी में हैं। दरअसल, एनडीटीवी ने अदाणी से कुछ समय पहले कर्ज लिया था। इसी कर्ज को नहीं चुकाने के मामले में मंगलवार को अदाणी समूह ने घोषणा कर दी कि वह एनडीटीवी में 29.18% की हिस्सेदारी खरीदने जा रही हैं। मंगलवार शाम को अडाणी ग्रुप ने इसका ऐलान किया।  

AMG मीडिया नेटवर्क लिमिटेड (AMNL) की सहायक कंपनी विश्वप्रधान कॉमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (VCPL) के जरिए यह इनडायरेक्ट हिस्सा लिया जाएगा। AMG मीडिया अडाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (AEL) की ही सब्सिडियरी है। 

अडाणी ग्रुप NDTV में अतिरिक्त 26% हिस्सेदारी के लिए भी 294 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से 493 करोड़ रुपए के ओपन ऑफर की पेशकश करेगा। AMNL के CEO संजय पुगलिया ने कहा, ‘यह अधिग्रहण मील का पत्थर है। AMNL इन्फॉर्मेशन और नॉलेज के साथ भारतीय नागरिकों, उपभोक्ताओं और भारत में रुचि रखने वालों को सशक्त बनाना चाहता है। NDTV हमारे विजन को पूरा करने के लिए सबसे अच्छा ब्रॉडकास्ट और डिजिटल प्लेटफॉर्म है।’ 

अडाणी ग्रुप ने शाम को करीब 6 बजकर 10 मिनट पर इसका ऐलान किया। इसके करीब दो घंटे बाद NDTV की CEO ने एक मेल जारी करके कहा कि अडाणी की तरफ से मीडिया ग्रुप में हिस्सा लेने की खबर चौंकाने वाली है। इस बारे में हमें न कोई जानकारी दी गई और न ही कोई बातचीत की गई है। ग्रुप की CEO ने इस मामले में रेगुलेटरी और कानूनी कदम उठाने की बात भी कही है। 

AMNL की सब्सिडियरी (पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी) VCPL के पास RRPR होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड का वॉरंट है, जो उन्हें RRPR में 99.99% हिस्सेदारी में बदलने का अधिकार देता है। वॉरंट का मतलब एक फाइनेंशियल कॉन्ट्रेक्ट है, जो एक्सपायरेशन से पहले एक निश्चित कीमत पर इक्विटी खरीदने या बेचने का अधिकार देता है। 

VCPL ने RRPR में 99.5% हिस्सेदारी हासिल करने के लिए इसी वारंट का इस्तेमाल किया है। NDTV की प्रमोटर ग्रुप कंपनी RRPR है, जो NDTV में 29.18% हिस्सेदारी रखती है। इसके आधार पर अडाणी ग्रुप को इनडायरेक्ट तरीके से NDTV में 29.18% की हिस्सेदारी मिल गई है। 

NDTV भारत का एक लीडिंग मीडिया हाउस है, जो तीन नेशनल न्यूज चैनल्स – NDTV 24×7, NDTV इंडिया और NDTV प्रॉफिट को चलाता है। इसकी मजबूत ऑनलाइन मौजूदगी भी है और यह अलग-अलग प्लेटफार्म्स पर 3.5 करोड़ से ज्यादा फॉलोवर्स के साथ सोशल मीडिया पर सबसे ज्यादा फॉलो किए जाने वाले न्यूज हैंडल्स में से एक है। 

अडाणी ग्रुप ने पिछले एक साल में 1.31 लाख करोड़ के 32 सौदे किए 

लंबे समय तक कोयला और इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट्स में निवेश करने के बाद अडाणी ग्रुप अब चावल से लेकर ट्रैवल पोर्टल, मीडिया, ग्रीन एनर्जी और सीमेंट कंपनियों का अधिग्रहण करके कारोबार को डायवर्सीफाई कर रहा है। अब यह एशिया-प्रशांत क्षेत्र में सबसे ज्यादा सौदे करने वाले समूहों में शुमार हो गया है। 

अडाणी ग्रुप ने पिछले सालभर में जो सौदे किए हैं, उनमें अधिकतर इन्फ्रास्ट्रक्चर और ग्रीन एनर्जी कंपनियां हैं। इनमें सीमेंट से लेकर पोर्ट्स और एनर्जी प्रोजेक्ट शामिल हैं। हाल ही में अडाणी समूह ने दुनिया की सबसे बड़ी सीमेंट कंपनी होलसिम से लगभग 81 हजार करोड़ रुपए में अंबुजा और ACC सीमेंट कंपनियों की हिस्सेदारी खरीदी थी। 

ब्लूमबर्ग बिलेनियर्स इंडेक्स के मुताबिक वर्तमान में गौतम अडाणी की नेटवर्थ लगभग 11 लाख करोड़ रुपए है। वे दुनिया के चौथे सबसे अमीर कारोबारी हैं। केवल एलन मस्क (टेस्ला), जेफ बेजोस (अमेजन) और बर्नार्ड अर्नोल्ट (LVMH) ही नेटवर्थ के मामले में उनसे ऊपर हैं। 

अडाणी ग्रुप ने 26 अप्रैल, 2022 को AMG मीडिया नेटवर्क लिमिटेड नाम की कंपनी बनाई थी। इसमें मीडिया कारोबार चलाने के लिए एक लाख रुपए की इनिशियल ऑथराइज्ड और पेड-अप शेयर कैपिटल का प्रॉविजन किया गया है। इसके जरिए पब्लिशिंग, एडवरटाइजमेंट, ब्रॉडकास्टिंग समेत मीडिया रिलेटेड कई प्रोजेक्ट्स हैंडिल किए जाएंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.