एलआईसी और बजाज हाउसिंग ने आधा पर्सेंट कर्ज महंगा किया  

मुंबई- दो हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों ने सोमवार को कर्ज की दर (लेंडिंग रेट) बढ़ा दी। इन दो कंपनियों में बजाज हाउसिंग फाइनेंस और एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस शामिल हैं। ये दोनों कंपनियां ग्राहकों को आकर्षक दर पर लोन मुहैया कराती हैं। दोनों कंपनियों ने लेंडिंग रेट में 0.50 परसेंट तक वृद्धि करने का ऐलान किया। लेंडिंग रेट बढ़ने से लोन की दरें बढ़ जाएंगी और ईएमआई पहले से अधिक चुकानी होगी।  

हाल में रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में बढ़ोतरी की है जिसके बाद बैंक और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां अपने लेंडिंग रेट में वृद्धि कर रही हैं। बढ़ती ब्याज दरों के बीच एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस और बजाज हाउसिंग फाइनेंस ने लेंडिंग रेट में वृद्धि की है। मई महीने के बाद यह बढ़ोतरी लगातार तेजी देखी जा रही है जिससे होम लोन आदि महंगे हुए हैं। हालांकि एफडी, आरडी और सेविंग अकाउंट पर ग्राहकों को पहले से अधिक फायदा मिल रहा है। 

बजाज हाउसिंग फाइनेंस ने अपनी दर में 0.50 फीसद की बढ़ोतरी की है। अब वेतन पाने वालों और प्रोफेशनल आवेदकों को न्यूनतम 7.70 परसेंट की दर से कर्ज मिलेगा। पहले यह रेट 7.20 परसेंट हुआ करती थी। इस बढ़ोतरी के बावजूद बजाज हाउसिंग फाइनेंस का कहना है कि अपने बराबर की कंपनियों की तुलना में अब भी आकर्षक दर पर लोन दे दिया जा रहा है। 

दूसरी ओर, एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस ने भी कर्ज महंगा किया है। इस कंपनी ने प्राइम लेंडिंग रेट एलएचपीएलआर में 0.50 परसेंट की बढ़ोतरी की है। अब एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस के होम लोन 8 परसेंट से शुरू होंगे। पहले होम लोन की दर 7.50 फीसद हुआ करती थी। इससे पहले जून में एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस ने ब्याज दर में 0.60 परसेंट का इजाफा किया था।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.