17 सहकारी बैंकों के ग्राहकों को अक्तूबर तक मिलेगी रकम 

मुंबई- डिपॉजिट इंश्योरेंस एवं क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (डीआईसीजीसी) 17 सहकारी बैंकों के योग्य जमाकर्ताओं को अक्तूबर तक उनके पैसे दे देगा। इसमें से 8 बैंक महाराष्ट्र के हैं। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने इन सभी बैंकों पर जुलाई में विभिन्न कारणों से प्रतिबंध लगा दिया गया था। इसके बाद अब जमाकर्ताओं को नियमों के तहत उनकी रकम मिलेगी। डीआईसीजीसी आरबीआई की ही सहयोगी है। यह बैंकों में जमा पर 5 लाख की बीमा गारंटी देती है।  

डीआईसीजीसी ने कहा कि योग्य ग्राहकों को दावा पाने के लिए सही कागजात और लिखित में आवेदन देना होगा। इसके साथ ही एक अलग से बैंक खाता देना होगा। इसी खाते में उनके पैसे जमा किए जाएंगे। बैंक खाता आधार से जुड़ा होना चाहिए। 

17 बैंकों में से 4 बैंक उत्तर प्रदेश के हैं। 2 कर्नाटक के और एक-एक बैंक नई दिल्ली, आँध्रप्रदेश और पश्चिम बंगाल के हैं। उत्तरप्रदेश के बैंकों में लखनऊ अर्बन सहकारी बैंक, अर्बन सहकारी बैंक सीतापुर, नेशनल अर्बन सहकारी बैंक बहराइच और युनाइटेड इंडिया सहकारी बैंक नगीना शामिल हैं। नई दिल्ली का रामगृह सहकारी बैंक है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.