आयकर भरने वाले अटल पेंशन योजना से बाहर, एक अक्तूबर से लागू होगा नियम 

मुंबई- आयकर भरने वाले लोग सरकार की सामाजिक सुरक्षा वाली स्कीम अटल पेंशन योजना (एपीवाई) में शामिल नहीं हो पाएंगे। इसी साल एक अक्तूबर से यह नियम लागू होगा। हालांकि, जो लोग अभी शामिल हैं, या 30 सितंबर तक इसमें शामिल होते हैं तो उन पर इसका कोई असर नहीं होगा। पर जो लोग एक अक्तूबर के बाद इस योजना में आएंगे और यह पता चलेगा कि वे आयकर भरते हैं तो ऐसे लोगों का खाता बंद कर पूरी रकम उनको वापस दे दी जाएगी।  

वित्त मंत्रालय ने बुधवार को एक अधिसूचना जारी कर इसकी जानकारी दी। आयकर नियम के तहत 2.5 लाख रुपये सालाना कमाई करने वाले लोगों को कोई टैक्स नहीं देना होता है। देश में 5.8 करोड़ आयकर रिटर्न (आईटीआर) पिछले साल भरे गए हैं। इस योजना का प्रबंधन कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) करता है। 

फिलहाल अटल पेंशन योजना में 18 से 40 साल की उम्र के लोग शामिल हो सकते हैं। इसे बैंक या डाकघर के जरिये लिया जा सकता है। इसके लिए बचत खाता होना जरूरी है। सरकार इस योजना में 50 फीसदी या एक हजार रुपये में जो भी कम होगा, उतना सालाना योगदान करती है। हालांकि इसमें उन्हीं लोगों को शामिल किया जाता है जो किसी और सामाजिक सुरक्षा के लाभार्थी नहीं होते हैं। 

पिछले वित्तवर्ष में अटल पेंशन योजना में 99 लाख खाता खोले गए थे। इसके साथ मार्च, 2022 तक कुल 4.01 करोड़ सदस्य हो गए थे। इस योजना को एक जून, 2015 को शुरू किया गया था। इसमें मुख्य रूप से असंगठित क्षेत्र के लोगों को शामिल किया जाता है। योजना में न्यूनतम गारंटीड पेंशन 60 साल की उम्र के बाद एक हजार से पांच हजार रुपये के बीच हर महीने मिलती है। पेंशन की रकम सदस्य के योगदान पर निर्भर होता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.