चीन की अलीबाबा ने 10 हजार लोगों को कंपनी से निकाला, मंदी का माहौल 

मुंबई- चीन की टेक्नोलॉजी कंपनी अलीबाबा ने लगभग 10,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है। इसकी पीछे की वजह चीन में प्रोडक्ट के सेल्स में कमी और धीमी अर्थव्यवस्था बताई गई। साउथ चाइना मॉर्निग पोस्ट के मुताबिक जून तिमाही के दौरान 9,241 से ज्यादा कर्मचारियों ने हांग्जो स्थित अलीबाबा छोड़ा। इससे कंपनी की कुल कर्मचारियों की संख्या को घटकर 2,45,700 हो गई। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि अलीबाबा के कर्मचारियों की संख्या में पिछले छह महीने यानी जून तक 13,616 की कमी आई है, जो मार्च 2016 के बाद से फर्म की पहली गिरावट है। हालांकि अलीबाबा के चेयरमैन और CEO डेनियल झांग योंग ने कहा कि कंपनी इस साल करीब 6,000 नए यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट्स को अपने हेडकाउंट में हायर करेगी। 

अलीबाबा ने जून तिमाही की आय में 50% की गिरावट के साथ 22.74 अरब युआन (3.4 अरब डॉलर) की गिरावट दर्ज की, जो पिछले साल की समान अवधि में 45.14 अरब युआन थी। चीन में बिजनेस एक्टिविटी बुरी तरह से प्रभावित हो रही हैं और इसका असर अलीबाबा के कारोबार पर भी देखी जा रही है। 

पिछले महीने, रिपोर्ट्स सामने आई थीं कि अरबपति जैक मा सरकारी रेगुलेटरों के दबाव के बीच एंट ग्रुप का अपना कंट्रोल छोड़ने की योजना बना रहे हैं। वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस कदम का उद्देश्य फिनटेक दिग्गज के सहयोगी अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग से दूर जाने के प्रयास के तहत है, जो सरकार की अत्यधिक जांच के अधीन है। 

पिछले कुछ समय में अलग-अलग टेक कंपनियां लगातार अपने स्टाफ की छंटनी कर रही है। क्रंचबेस की रिपोर्ट में कहा गया है कि सिलिकॉन वैली में मौजूद कई कंपनियों ने पिछले महीने करीब 32 हजार कर्मचारियों को जॉब से निकाल दिया। इनमें ट्विटर, टिकटॉक, शॉपिफाई, नेटफ्लिक्स और कॉइनबेस जैसी कंपनियां शामिल हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.