भारत छोड़ने का इरादा नहीं, यहीं ब्रांड मजबूत करेंगे- फ्रैंकलिन टेंपल्टन 

मुंबई। म्यूचुअल फंड कंपनी फ्रैंकलिन टेंपल्टन ने कहा है कि भारत छोड़ने का कोई इरादा नहीं है। हम यहीं पर अपने ब्रांड को फिर से मजबूत करेंगे। कंपनी के भारत में अध्यक्ष अविनाश सातवलेकर ने कहा, भारत छोड़ना मूर्खतापूर्ण फैसला होगा।  

उन्होंने कहा, हमारी भारत में 26 साल से मौजूदगी है और 20 लाख निवेशक हैं। 56,000 करोड़ रुपये से ज्यादा असेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) है। नवंबर, 2020 में कंपनी ने अपनी 6 डेट योजनाओं को अचानक बंद कर दिया था। इनका 25,000 करोड़ का एयूएम और 3 लाख निवेशक थे। इसके बाद सेबी ने फंड कंपनी को नोटिस जारी कर 5 करोड़ का जुर्माना लगाया था। साथ ही निवेशकों की रकम वापस लौटाने का आदेश दिया था। अगले 6 से 12 महीने में कंपनी उत्पादों की लॉन्चिंग करेगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.