कैंसर, मधुमेह और दिल की बीमारियों की दवाइयों की कीमतें घटेंगी 

मुंबई- कैंसर, डायबिटीज और दिल की बीमारियों से जूझ रहे मरीजों को आने वाले दिनों में बड़ी राहत मिल सकती है। सरकार इन बीमारियों के इलाज में काम आने वाली जरूरी दवाओं की कीमत में कटौती करने की तैयारी में है। 15 अगस्त को इसकी घोषणा हो सकती है। इन बीमारियों से जुड़ी कुछ दवाओं की कीमत बहुत ज्यादा है। सरकार इस बात को लेकर चिंतित है और इनकी कीमत को रेगुलेट करना चाहती है। 

यह प्रस्ताव लागू होता है तो दवाओं की कीमत 70 फीसदी तक कम हो जाएगी। सरकार साथ ही आवश्यक दवाओं की लिस्ट में भी बदलाव कर काम कर रही है। पिछली बार इसमें 2015 में बदलाव किया गया था। इसमें ऐसी दवाओं को शामिल किया जाएगा जिनका व्यापक पैमाने पर इस्तेमाल हो रहा है। साथ ही ऐसी दवाओं के हाई मार्जिन पर कैप लगाने पर विचार किया जा रहा है जिनका मरीज लंबे समय तक इस्तेमाल करते हैं। 

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने इस बारे में दवा कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ 26 जुलाई को मीटिंग बुलाई है। सूत्र के मुताबिक कई दवाओं पर ट्रेड मार्जिन 1000 फीसदी से भी अधिक है। अभी ड्रग रेगुलेटर एनपीपीए ने 355 दवाओं की कीमत पर कैप लगा रखी है। ये दवाएं एनएलईएम में शामिल हैं। इन दवाओं पर होलसेलर्स के लिए ट्रेड मार्जिन आठ फीसदी और रिटेलर्स के लिए 16 फीसदी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.