जानिए भारत का पासपोर्ट कितना मजबूत है, जापान पहले नंबर पर  

मुंबई- दुनियाभर के अलग-अलग देशों के पासपोर्ट की रैंकिंग जारी की गई. हेनली पासपोर्ट इंडेक्स के मुताबिक, जापान का पासपोर्ट दुनिया में सबसे पावरफुल है। उसके बाद सिंगापुर और साउथ कोरिया का स्थान आता है। तीसरे नंबर पर जर्मनी और स्पेन, चौथे नंबर पर फिनलैंड, इटली और लग्जमबर्ग, पांचवें नंबर पर ऑस्ट्रिया और डेनमार्क आता है।  

इस रिपोर्ट को इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी की तरफ से मिली जानकारी के आधार पर तैयार किया गया है। कुल 199 देशों की लिस्ट में भारत का पासपोर्ट 87वें स्थान पर है। कोरोना पूर्व यूरोपियन देशों का टॉप लिस्ट में दबदबा होता था। कोरोना के बाद स्थितियां बदली हैं और एशियन देशों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। 

जापान का पासपोर्ट 193 देशों में वीजा फ्री ट्रैवल की सुविधा उपलब्ध करवाता है। सिंगापुर और साउथ कोरिया का पासपोर्ट 192 देशों में वीजा फ्री एक्सेस देता है। यूक्रेन पर हमला करने के बाद रूस के खिलाफ पश्चिमी देश एकजुट हो गए हैं। वह इस रैंकिंग में 50वें पायदान पर है। 119 देशों में रसियन पासपोर्ट को फ्री एक्सेस है। यूक्रेन 35वें पायदान पर है और 144 देशों में एक्सेस है। 

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी इकोनॉमी चीन 69वें पायदान पर है और इसका पासपोर्ट 80 देशों में एक्सेस देता है। 199 देशों की लिस्ट में अफगानिस्तान आखिरी पायदान पर है। इस देश का पासपोर्ट केवल 27 देशों में एंट्री की इजाजत देता है।अमेरिका के पासपोर्ट पर 186 देशों में प्रवेश की इजाजत है। वीजा फ्री स्कोर की बात करें तो जापान का 193, सिंगापुर और साउथ कोरिया का 192, जर्मनी और स्पेन का 190, फिनलैंड और इटली का 189 और डेनमार्क, ऑस्ट्रिया और स्वीडन का 188 है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.