अभी भी भारतीय रियल एस्टेट में करते हैं सबसे ज्यादा निवेश 

मुंबई- देश में इक्विटी निवेश भले ही तेजी से बढ़ रहा हो, लेकिन अब भी सबसे भरोसेमंद एसेट रियल एस्टेट है। इस साल मार्च तक भारतीय परिवारों की कुल संपत्ति करीब 851 लाख करोड़ रुपए थी और इसमें से आधी प्रॉपर्टी में लगी हुई है। 15% से ज्यादा बचत सोने के रूप में और इतनी ही बैंक डिपॉजिट के तौर पर है। इस मामले में इक्विटी का स्थान पांचवां है। 

इन्वेस्टमेंट बैंकर जेफरीज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीयों ने 49.4% निवेश प्रॉपर्टी में किया हुआ है। इक्विटी में 5% से भी कम निवेश है। इक्विटी में भारतीयों को इंश्योरेंस फंड और बैंक डिपॉजिट से भी कम भरोसा है। इन एसेट क्लास में उनका निवेश क्रमश: 6.2% और 15.1% है। पीएफ और पेंशन में सबसे कम निवेश है। विशेषज्ञों के मुताबिक, इसकी वजह यह हो सकती है कि भारत में संगठित क्षेत्र की नौकरियां कम हैं, जहां इस तरह के निवेश अलग से करने की जरूरत नहीं होती। 

कोटक सिक्युरिटीज के मुताबिक, ज्यादातर भारतीय फाइनेंशियल कंपनियों पर भरोसा नहीं करते हैं। लोगों को लगता है कि ऐसे एसेट्स पर उनका कम नियंत्रण है। शेयर बाजार में कई बार भारी उतार-चढ़ाव इसकी वजह है। यही कारण है कि वे इक्विटी जैसे फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट में निवेश करने से बचते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.