41 शहरों में बढ़ीं मकानों की कीमतें, 5 शहरों में कीमतें घटीं 

मुंबई- वित्तवर्ष 2021-22 में देश के 41 शहरों में मकानों की कीमतों में जबरदस्त इजाफा हुआ है। नेशनल हाउसिंग बैंक (एनएचबी) के आंकड़ों के मुताबिक, 5 शहरों में आवासीय संपत्तियों के दाम में गिरावट आई है। जबकि 4 में कीमतें स्थिर रही हैं।  

एनएचबी की ओर से जारी रेसिडेक्स के अनुसार, सालाना आधार पर शीर्ष 8 शहरों में सबसे ज्यादा कीमत 13.8 फीसदी अहमदाबाद में बढ़ी है। हैदराबाद में 11 फीसदी, चेन्नई में 7.7 फीसदी, दिल्ली में 3.2 फीसदी, कोलकाता में 2.6 फीसदी, मुंबई में 1.9 और पुणे में केवल 0.9 फीसदी कीमत बढ़ी है। हालांकि नवी मुंबई में मकानों की कीमतें इसी दौरान 5.9 फीसदी घटी हैं।  

तिमाही आधार पर बात करें तो 50 शहरों के इंडेक्स में जनवरी-मार्च, 2022 में कीमतें 2.6 फीसदी बढ़ी हैं जो उससे पहले तिमाही में 1.7 फीसदी बढ़ गई थीं। इंडेक्स के अनुसार, तिमाही आधार पर  जून, 2021 से रुझानों में तेजी बनी है। कोरोना के बाद से आवासीय बाजार में सुधार हो रहा है। निर्माणाधीन और तैयार घर जो नहीं बिक पाए हैं, उनकी भी कीमतें तेजी से बढ़ी हैं। मार्च, 2022 की तिमाही में इनके दाम 4.8 फीसदी बढ़े, जबकि एक साल पहले इसी तिमाही में इनमें एक फीसदी की तेजी आई थी। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि कीमतों में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव है। जैसे भुवनेश्वर में कीमतें 23.9 फीसदी तक बढीं, जबकि इंदौर में 10.8 फीसदी तक की गिरावट देखने को मिली। 50 शहरों के इंडेक्स में जनवरी-मार्च, 2022 की तिमाही में 1.9 फीसदी का बदलाव हुआ। उसके पहले की तिमाही में इसमें 0.9 फीसदी का बदलाव हुआ था। 

रिपोर्ट के अनुसार, आगे भी कीमतों में तेजी रहेंगी। कारण यह है कि लोग खुद का घर देख रहे हैं। साथ ही निर्माण की लागत भी बढ़ रही है। एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल जनवरी से जून के बीच मकानों की बिक्री 60 फीसदी बढ़ी है। नए मकानों के  निर्माण में भी 56 फीसदी की तेजी आई है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.