जून तिमाही में म्यूचुअल फंड की इक्विटी स्कीम में खुला 51 लाख खाता  

मुंबई- जून तिमाही में म्यूचुअल फंड में 51 लाख नए खाते खुले हैं। इसके साथ कुल निवेशकों की संख्या 13.46 करोड़ हो गई है। इसमें से 35 लाख फोलियो (खाते) इक्विटी स्कीम में खुले हैं। इससे इक्विटी में कुल फोलियो की संख्या 8.63 करोड़ से बढ़कर 8.93 करोड़ हो गई है।  

म्यूचुअल फंड के बारे में लगातार सेबी और फंड हाउसों के प्रयास तथा डिजिटलाइजेशन से यह संभव हुआ है। मार्च तिमाही में 93 लाख खाते खुले थे। पिछले 12 महीने में कुल 3.2 करोड़ खाते खुले हैं। खासकर तब, जब पिछले 8 महीने से शेयर बाजार में भारी उतार-चढ़ाव है। 

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार फंड उद्योग का कुल एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 37 लाख करोड़ रुपये है। जानकारों का मानना है कि नए निवेशकों के आने का रुझान आगे भी जारी रहेगा। कुल 43 फंड हाउसों के पास मार्च, 2022 में 12.95 करोड़ खाते थे। मई, 2021 में कुल 10 करोड़ खाते थे।

ज्यादातर निवेशक इक्विटी, हाइब्रिड और सोल्यूशन केंद्रित योजनाओं में आए। इसमें ज्यादातर खुदरा निवेशक हैं। आंकड़ों के अनुसार, 2021-22 में 3 करोड़ खाते, 2020-21 में 81 लाख, 2019-20 में 73 लाख, 2018-19 में 1.13 करोड़, 2017-18 में 1.6 करोड़, 2016-17 में 67 लाख और 2015-16 में 59 लाख खाते खुले थे। हालांकि बावजूद इसके देश की आबादी की तुलना में केवल 3 फीसदी ही लोग म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं। 

आंकड़ों के मुताबिक, डेट सेगमेंट में 2.43 लाख खाते बंद हो गए हैं और कुल खातों की संख्या 73.65 लाख रही है। इसमें लिक्विड फंड में 17.5 लाख खाते, ड्यूरेशन फंड में 10.14 लाख, कॉरपोरेट बॉन्ड में 6.38 लाख, अल्ट्रा शॉर्ट ड्यूरेशन में 6.15 और ओवरनाइट फंड में 6.11 लाख खाते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.