वोडाफोन आइ़िडया को एजीआर चुकाने के लिए 4 साल की मिली मोहलत 

मुंबई- कर्ज से दबी वोडाफोन आइडिया को 8,837 करोड़ रुपये के एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (एजीआर) को चुकाने के लिए 4 साल की मोहलत मिल गई है। कंपनी ने बुधवार की देर रात शेयर बाजारों को दी सूचना में कहा कि वित्तवर्ष 2018-19 के इस बकाए को कंपनी 31 मार्च, 2026 के बाद समान किस्त में भुगतान करेगी।  

दरअसल, 15 जून को दूरसंचार विभाग ने कंपनी को 2016-17 के बकाए के लिए एक पत्र भेजा था। इसमें 2018-19 के  आधार पर बकाये के लिए चार साल का समय दिया गया था। हालांकि सुप्रीमकोर्ट के एक सितंबर के आदेश को इसमें शामिल नहीं किया गया था। इस आदेश में यह कहा गया था कि कंपनी 30 जून तक उस पर अमल कर सकती है।  

बुधवार को कंपनी के बोर्ड की हुई बैठक में मोरेटोरियम का विकल्प चुना गया, जिसमें एजीआर की रकम का भुगतान करने के लिए उसे 2026 के बाद चार साल और मिलेंगे। वोडाफोन आइडिया को चौथी तिमाही में 6,563 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था जो एक साल पहले 7,022 करोड़ रुपये था। कंपनी पर 59,236 करोड़ रुपये एजीआर का बकाया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.