टाटा की ईवी कार में आग- सरकार ने स्वतंत्र जांच का दिया आदेश 

मुंबई- टाटा की इलेक्ट्रिक एसयवी कार नेक्सन में आग लगने की जांच शुरू हो गई है। सरकार ने बृहस्पतिवार को स्वतंत्र जांच कराने का आदेश दे दिया। सड़क ट्रांसपोर्ट एवं हाईवे मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। इसके लिए सेंटर फॉर फायर एक्सप्लोसिव एंड एनवायरमेंट सेफ्टी (सीएफईईएस), भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी) और नवल साइंस एवं टेक्नोलॉजी लैब (एनएसटीएल) से कहा गया है कि वे इस घटना की जांच करें और इससे संबंधित उपाय भी बताएं।  कंपनी ने एक बयान में कहा कि हम इस घटना का पता लगा रहे हैं। हम ग्राहकों और कार की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हैं। 

इससे पहले ओला, ओकिनावा, ऑटोटेक और प्यूर ईवी सहित अन्य कंपनियों के इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की कई घटनाएं सामने आई हैं। जिससे उन्हें हजारों वाहनों को वापस बुलाना पड़ा। गौरतलब है कि दोपहिया वाहनों में आग लगने के बाद सरकार ने एक पैनल बनाया था। यह पैनल इसी महीने में इससे संबंधित रिपोर्ट सरकार को सौंपेगा। 

कंपनी ने कहा कि देश भर में 4 साल में कुल 30 हजार से ज्यादा ईवी बेचे गए हैं और इन्होंने 10 करोड़ किलोमीटर से अधिक की दूरी तय की है। ऐसे में पहले इसके कारणों का पता लगाना होगा। हालांकि यह किसी भी ईवी कार में आग लगने की पहली घटना है। नेक्सन में आग लगने की घटना सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुई। 

नेक्सन भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली ईवी कार है। एक बार पूरा चार्ज करने पर यह 312 किलोमीटर चलती है। हालांकि नेक्सन ईवी मैक्स हाल में लॉन्च की गई है और यह 437 किलोमीटर चलती है। यह 8 घंटे में 20 से 100 फीसदी तक चार्ज होती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.