इक्विटी अग्रेसिव हाइब्रिड फंड में रिटर्न देने के मामले में फिसड्‌डी रहा एसबीआई म्यूचुअल फंड 

मुंबई- देश के सबसे बड़े म्यूचुअल फंड एसबीआई म्यूचुअल फंड ने अग्रेसिव हाइब्रिड फंड में तीन बड़े फंडों में सबसे कम रिटर्न दिया है। यहां तक कि इसने निफ्टी 50 हाइब्रिड डेट बेंचमार्क की तुलना में भी कम फायदा निवेशकों को दिया है। जबकि दो अन्य फंड हाउसों ने इससे बेहतर रिटर्न दिया है।  

आंकड़ों के मुताबिक, एसबीआई इक्विटी एवं डेट फंड का एयूएम 49,425 करोड़ रुपये है जबकि आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के हाइब्रिड फंड का एयूएम 18,928 करोड़ रुपये है। एचडीएफसी के हाइब्रिड का एयूएम 18,430 करोड़ रुपये है। आंकड़े बताते हैं कि एक साल में एसबीआई की इस स्कीम ने केवल 3.38 फीसदी, दो साल में 20.78 और तीन साल में 11.33 फीसदी का रिटर्न दिया है।  

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल की हाइब्रिड स्कीम ने एक साल में 16.77, दो साल में 33.68 और तीन साल में 17.20 फीसदी का रिटर्न दिया है। एचडीएफसी की हाइब्रिड स्कीम ने इसी साल में 4.31, 25.83 और 11.41 फीसदी का फायदा निवेशकों को दिया है। इस स्कीम के बेंचमार्क निफ्टी 50 हाइब्रिड एवं डेट फंड ने एक साल में 4.71, दो साल में 20.29 और तीन साल में 11.49 फीसदी का रिटर्न दिया है।  

आंकड़ों के मुताबिक, 31 मई, 2022 तक म्यूचुअल फंड में इस स्कीम का कुल एयूएम 1.44 लाख करोड़ रुपये रहा। कुल 32 स्कीम हैं जिनमें 51.16 लाख फोलियो हैं। फोलियो का मतलब ग्राहकों के म्यूचुअल फंड खाते से है। इस फंड में ज्यादातर रूढिवादी निवेशक आते हैं यानी जिनको कम जोखिम पर औसत दर्जे का रिटर्न चाहिए होता है। यह स्कीम अपनी कुल संपत्ति का 65 फीसदी हिस्सा इक्विटी में और 35 फीसदी हिस्सा डेट में निवेश करती है।  

गौरतलब है कि म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री लगातार अच्छा ग्रोथ कर रही है और मई में इसका कुल असेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 38.79 लाख करोड़ रुपये रहा है। पिछले 5 सालों में इसका एयूएम दोगुना बढ़ा है। कुछ स्कीमों ने 100 फीसदी तक का रिटर्न दिया है, जबकि कुछ ने निवेशकों को बेंचमार्क की तुलना में घाटा दिया है। म्यूचुअल फंड में एसबीआई 6.47 लाख करोड़ रुपये एयूएम (मार्च-2022) के साथ सबसे बड़ा फंड हाउस है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.