इस शेयर में 10 हजार का निवेश 900 करोड़ हो गया, जानिए कौन सा है स्टॉक  

मुंबई- अगर आपका पैसा अच्छे स्टॉक में लगा है तो इंतजार का फल इतना मीठा होगा कि आप उसकी कल्पना भी नहीं कर सकते। इसका सबसे अच्छा उदाहरण विप्रो के शेयर हैं। साल 1980 में विप्रो स्टॉक में जिसने भी केवल 10 हजार रुपये का निवेश किया होगा, उसका यह 10 हजार आज कंपनी द्वारा दिए गए सभी बोनस शेयर और विभाजन के हिसाब से 900 करोड़ हो गए होते।  

वह भी तब जब इसमें कंपनी द्वारा समय-समय पर दिया गया डिविडेंड शामिल नहीं है। अगर कोई निवेशक 42 साल पहले यानी 1980 में केवल 10000 रुपये विप्रो के शेयरों में लगाया होता और आज तक इस स्टॉक में बना रहता तो आज अरबपति होता।  

1980 में विप्रो के शेयर की कीमत लगभग 100 रुपये थी, लेकिन अब 468 रुपये है। कंपनी शेयर विभाजित करती गई और साथ में बोनस भी देती रही। इसका असर ये हुआ कि 1980 में जिसने 100 शेयर लिए थे, उसके पास बिना एक भी पैसा लगाए 25536000 शेयर होंगे। हालांकि शायद ही कोई निवेशक होगा, जो एक स्टॉक में इतने साल टिका रहा हो। अब विप्रो के शेयर की कीमत 468 रुपये है। यानी अब उस 10000 रुपये की कीमत 468×25536000 = 8,99,19,36,000 हो गई है। 

शेयर बाजार में पैसा लगाने वाले अधिकतर निवेशकों में धैर्य की कमी होती है। अगर पैसा डेढ़ गुना भी बढ़ा तो मुनाफा वूसली कर लेते हैं और घाटा तो बेचकर स्टॉक से निकल लेते हैं। विप्रो ही नहीं आप आयशर, सिंफोनी, नैटको फार्मा और अजंता फार्मा जैसे या फिर किसी और अच्छे स्टॉक में इतना समय दिए होते तो करोड़पति होते। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.