एक लाख रुपये का निवेश इस शेयर में हो गया 1 करोड़ से ज्यादा  

मुंबई- 10,389 प्रतिशत की छलांग के साथ एचएलई ग्लासकोट के शेयर ने निवेशकों को बेहतरीन फायदा दिया है। निवेशक आशीष कचोलिया के पास 31 मार्च तक कंपनी में 1.40 प्रतिशत हिस्सेदारी थी।  

एचएलई ग्लासकोट के शेयर 6 जून 2012 को 32.60 रुपये से बढ़कर 6 जून 2022 को 3419.45 रुपये हो गए। यानी दस साल पहले इस शेयर में लगाए गए एक लाख रुपये आज की तारीख में 1.04 करोड़ रुपये हो जाती। इसके अलावा इस लिस्ट में एक्रिसिल, फाइनोटेक्स केमिकल, वैभव शामिल हैं। 

ग्लोबल, विष्णु केमिकल्स, मास्टेक, मोल्ड-टेक पैकेजिंग, फेज़ थ्री, सफारी इंडस्ट्रीज, ला ओपाला आरजी, एक्सप्रो इंडिया, एडीएफ फूड्स, आईओएल केमिकल्स एंड फार्मास्युटिकल्स, सस्तासुंदर वेंचर्स, पीसीबीएल, एनआईआईटी लिमिटेड और गारेवेयर हाई-टेक फिल्म्स के शेयरों में भी  अच्छी  खासी बढ़त देखी गई है।  

जून 2012 से 500 फीसदी से 4,600 फीसदी तक का रिटर्न दिया है। बता दें कि कचोलिया ज्यादातर मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में निवेश करते हैं। उनकी 31 मार्च, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए इन सभी फर्मों में 1 फीसदी से अधिक हिस्सेदारी थी। 

अनिल कुमार गोयल के पसंदीदा स्टॉक द्वारिकेश शुगर इंडस्ट्रीज ने पिछले 10 साल में 2,900 प्रतिशत से अधिक की तेजी हासिल की। 31 मार्च, 2022 तक निवेशक के पास कंपनी में 4.46 प्रतिशत हिस्सेदारी थी। 90 के दशक में अपनी निवेश यात्रा शुरू करने वाले गोयल ज्यादातर छोटी और सूक्ष्म-स्तरीय फर्मों में निवेश करते हैं।  

डालमिया भारत शुगर, त्रिवेणी इंजीनियरिंग एंड इंडस्ट्रीज, टीसीपीएल पैकेजिंग, पनामा पेट्रोकेम, उत्तम शुगर मिल्स, स्टार पेपर मिल्स, केआरबीएल, नाहर कैपिटल, वर्धमान स्पेशल स्टील्स, धामपुर शुगर मिल्स और नाहर पॉली फिल्म्स में भी 700 फीसदी से 2,900 फीसदी की तेजी आई।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.