आर्थिक गतिविधियां जोरों पर, मई में नौकरियों की रही भरमार 

मुंबई- देश में आर्थिक गतिविधियां रफ्तार पकड़ रही हैं। प्रमुख उद्योग क्षेत्रों की भर्ती के आंकड़ों से यह बात सामने आई है। मई में हायरिंग एक्टिविटी में सालाना आधार पर 40% की बढ़ोतरी हुई है। 

मई में गर्मियों की छुट्टियों के साथ ट्रैवल और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर की भर्तियों में सालाना आधार पर 352% की बढ़ोतरी हुई। वहीं, रिटेल सेक्टर में 175%, रियल एस्टेट में 141% और बीमा क्षेत्र में 126% की वृद्धि देखी गई। मासिक आधार पर बीमा क्षेत्र में हायरिंग में 25% की ग्रोथ हुई। 

अन्य प्रमुख क्षेत्रों में बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विसेस और बीमा (BFSI) में 104%, शिक्षा में 86%, ऑटो में 69%, तेल और गैस में 69%, FMCG में 51%, IT में 7% वृद्धि देखी गई। नौकरी जॉबस्पीक इंडेक्स मई में 2,863 अंक पर दर्ज किया गया। यह जॉब मार्केट में बढ़ोतरी को दर्शाता है और मासिक इंडेक्स है। यह हर महीने नौकरी डॉट कॉम पर नई जोड़ी गई जॉब लिस्टिंग के आधार पर भर्तियों की गणना करता है। 

मेट्रो और गैर-मेट्रो शहरों में टैलेंट की मांग स्थिर बनी रही। इसमें मई के दौरान भर्तियों में सालाना आधार पर दो अंकों में वृद्धि हुई। दिल्ली ने सबसे अधिक 63%, इसके बाद मुंबई में 61% और कोलकाता में 59% की वृद्धि दर्ज की गई। चेन्नई में 35%, पुणे में 27% और हैदराबाद में 23% की वृद्धि दर्ज की गई है। 

टियर-2 शहरों में भी भर्तियों को लेकर आशावादी रुझान देखा गया। जयपुर 76% के साथ इनमें शीर्ष पर रहा। कोयंबटूर में 64%, वडोदरा में 49%, कोच्चि में 35%, अहमदाबाद में 26% और चंडीगढ़ में 25% अन्य ऐसे उभरते शहर थे, जहां भर्तियों में सालाना आधार पर दो अंकों में वृद्धि देखी गई। 

टेलीकॉम सेक्टर में अगले वित्त वर्ष में दोगुनी नौकरियां होंगी। इस साल नई नौकरियों की संख्या 19 हजार है जोकि अगले साल 38 हजार होगी। इसके अलावा अगले साल नेटवर्क इंजीनियरिंग, नेटवर्क ऑपरेशन, डेटा एनालिटिक्स आदि पदों के लिए ज्यादा जॉब्स आएंगे।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.