विस्तारा एयरलाइंस पर लगा 10 लाख रुपये का जुर्माना 

मुंबई- एयरलाइंस कंपनी विस्तारा पर 10 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है। कंपनी पर सेफ्टी के नियम को तोड़ने का आरोप लगा है। एयरलाइन एविएशन डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविशन (DGCA) ने बताया कि जरूरी ट्रेनिंग के बिना ही विस्तारा एयरलाइंस टेक ऑफ और लैंडिंग का क्लीयरैंस ऑफिसर को दे दिया करती थी। 

दरअसल एयरक्राफ्ट पर पैसेंजर के साथ ऑनबोर्ड करने से पहले सिमुलेटर में एयरक्राफ्ट को लैंड करने की ऑफिसर को ट्रेनिंग दी जाती है। उसी तरह, लैंडिंग से पहले ऑफिसर की तरह ही कैप्टन को सिमुलेटर में ही ट्रेनिंग दी जाती है, लेकिन विस्तारा एयरक्राफ्ट को ऑफिसर और कैप्टन को सिमुलेटर में ट्रेनिंग के बिना ही लैंड करा दिया जाता था। ऐसे में ऑनबोर्डिंग के समय किसी हादसे की आशंका का डर बना हुआ था, जो पूरी तरह से पैसेंजर की जान से खेलना है। रिपोर्ट के मुताबिक यह लापरवाही इंदौर में लैंडिंग के समय पाई गई है। 

विस्तारा ने कहा कि इंदौर में अगस्त 2021 में एयरक्राफ्ट की सुपरवाइज्ड टेक-ऑफ और लैडिंग (STOL) एक एक्सपीरिएंस कैप्टन के देखरेख में हुई थी। और पायलटों को पूरी तरह से ट्रेनिंग दी गई थी और पिछले एंप्लॉयर की तरफ से वैलिड STOL भी दिया गया था। स्पोकपर्सन ने आगे बताया कि विस्तारा हमेशा पैसेंजर की सेफ्टी और स्टाफ उसकी पहली प्रॉयरिटी है। जबकि DGCA का आरोप है कि विस्तारा एयरक्राफ्ट को ऑफिसर और कैप्टन को सिमुलेटर में ट्रेनिंग के बिना ही लैंड करा दिया जाता था। 

विस्तारा एयरलाइंस ने सबसे पहली उड़ान 9 जनवरी 2015 को दिल्ली और मुंबई के बीच भरी। विस्तारा का हेडक्वॉर्टर गुरुग्राम में गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट में है। यह टाटा सन्स और सिंगापुर एयरलाइंस का जॉइंट वेंचर है। इसमें टाटा संस 51% और सिंगापुर एयरलाइंस 49% हिस्सा है। विस्तारा भारत के भीतर और बाहर 39 डेस्टिनेशन को जोड़ती है। कंपनी 39 एयरबस A320, 5 बोइंग 737-800NG, 4 एयरबस A321 नियो और 2 बोइंग B787-9 ड्रीमलाइनर सहित 50 विमानों के बेड़े के साथ एक दिन में 220 से ज्यादा फ्लाइट ऑपरेट करती है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.