वरुण गांधी का भाजपा से सवाल- देश में 60 लाख सरकारी पद खाली, कहां गया बजट 

मुंबई- भाजपा के सांसद वरुण गांधी ने एक बार फिर अपनी पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि जहां बेरोजगारी 30 साल के शीर्ष पर है, वहीं दूसरी ओर, देश में 60 लाख सरकारी पद खाली हैं। उन्होंने कहा कि जहां भर्तियां न आने से करोड़ों युवा हताश व निराश हैं, वहीं सरकारी पदों में भर्ती न होना भी एक आश्चर्यजनक बात है। वरुण गांधी महंगाई, भ्रष्टाचार, बेरोजगारी सहित अन्य मुद्दों पर भाजपा को घेरते रहते हैं।  

वरुण गांधी ने इस पूरे खाली सरकारी पद का विवरण दिया है। उन्होंने कहा कि कहां वो बजट गया जो इन पदों के लिए आवंटित किया गया था। यह हर नौजवान को जानने का हक है। उनके आंकड़ों के मुताबिक कुल 60 लाख पदों में से राज्यों में अनुमानित रूप से 30 लाख पद खाली हैं। उन्होंने लिखा है कि केंद्रीय मंत्रालय एवं विभाग में 9.10 लाख पद खाली हैं। इसमें से सरकारी बैंकों में 2 लाख पद खाली पड़े हैं।  

उनके मुताबिक, स्वास्थ्य सेवाओं में हेल्थ पर्सनल में 1.68 लाख पद खाली हैं जबिक आंगनवाड़ी में 1.76 लाख पदों पर भर्ती नहीं हुई है। प्राथमिक स्कूलों या शिक्षा की बात करें तो केंद्रीय और नवोदय विद्यालय में 16,329 पद और राज्यों के प्राथमिक स्कूलों में 8.37 लाख पद खाली हैं। उच्च शिक्षण संस्थान में केंद्रीय विद्यालयों में 18,647 और आईआईटी, आईआईएम और एनआईटी में 16,786 पद अभी तक नहीं भरे गए हैँ।  

वरुण गांधी ने कहा कि इसी तरह से अन्य केंद्रीय शैक्षिक संस्थानों में 1,662 पद खाली हैं। सेना और पुलिस में भी भारी संख्या में पदों को नहीं भरा गया है। भारतीय सेना में 1.07 लाख पदों को भरने की जरूरत है जबिक सेंट्रल आर्म्ड और पुलिस फोर्स में 91,929 पद खाली हैं। राज्यों के पुलिस विभाग में 5.31 लाख पद खाली पड़े हैं। अदालतों में भी खाली पदों का उन्होंने विवरण दिया है। उनके मुताबिक, सुप्रीमकोर्ट में 4, हाईकोर्ट में 419 और जिला और निचली अदालतों में 4,929 पद खाली पड़े हैं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.