आरबीआई की बैलेंसशीट 61.9 लाख करोड़ की हुई, 8 फीसदी से ज्यादा बढ़ी 

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की बैलेंसशीट 2021-22 में 8.46 फीसदी बढ़कर 61.9 लाख करोड़ रुपये हो गई है। एक साल पहले यह 57.07 लाख करोड़ रुपये थी। इसकी आय 201.4 फीसदी बढ़ी है।  

2021-22 में आरबीआई ने 30,307 करोड़ रुपये का सरप्लस सरकार को लाभांश के रूप में दे दिया। एक साल पहले 99,122 करोड़ रुपये दिया था। इसने कहा कि असेट में मुख्य रूप से विदेशी निवेश में 4.28 फीसदी, घरेलू निवेश में 11.67 फीसदी, सोना में 30.07 फीसदी और लोन में 54.3 फीसदी की बढ़त आई। 

आरबीआई ने कहा कि कुल बैलेंसशीट में घरेलू संपत्तियों का हिस्सा 28.22 फीसदी है जबकि विदेशी संपत्तियों का हिस्सा 71.78 फीसदी है, जिसमें सोना का डिपॉजिट और भारत में जितना सोना है। एक साल पहले विदेशी हिस्सा 73.58 फीसदी और घरेलू हिस्सा 26.42 फीसदी था।  

आरबीआई के पास कुल 760.42 मैट्रिक टन सोना है जो एक साल पहले 695.31 मैट्रिक टन था। इसका खर्च 34,146 करोड़ रुपये से 280 फीसदी बढ़कर 1.29 लाख करोड़ रुपये हो गया। कुल कर्मचारियों का खर्च 19.19 फीसदी कम होकर 3,869 करोड़ रुपये रह गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.