एक्सिस म्यूचुअल फंड की दिक्कत बढ़ी, सेबी का 16 लोगों के यहां छापा  

मुंबई- एक्सिस म्यूचुअल फंड की दिक्कतें बढ़ती जा रही हैं। सेबी ने महाराष्ट्र और गुजरात में 16 लोगों के यहां छापा मारा है। यह छापा 30 स्थानों पर मारा गया है। इसमें सेबी को काफी कुछ मिलने की जानकारी है। इस घटना से म्यूचुअल फंड उद्योग में हड़कंप मचा हुआ है।  

जानकारी के मुताबिक, पिछले कुछ दिनों से म्यूचुअल फँड की अपनी चल रही जांच के बाद सेबी ने इसकी जांच शुरू की है। इसी मामले में सेबी ने 16 संदेहास्पद लोगों के 30 ठिकानों पर छापा मारा है। सेबी इस फ्रंट रनिंग की गहराई से जांच कर रही है।  

बता दें कि एक्सिस म्यूचुअल फंड ने दो फंड मैनेजरों दीपक और विरेश को निकाल तो दिया, पर सेबी इस मामले में अलग से ही जांच कर रही है। इसमें माना जा रहा है कि कई सारे लोगों पर गाज गिर सकती है। कहा जा रहा है कि विरेश ने बाहर के ब्रोकरों को गुप्त जानकारी दी थी, जिसके आधार पर इसे फ्रंट रनिंग कहा जा रहा है।  

इसमें काफी लोग गुजरात और महाराष्ट्र से हैं। हालांकि उधर निकाले गए फंड मैनेजर दोशी ने एक्सिस म्यूचुअल फँड को कानूनी नोटिस भेजा है। इन्होंने कहा है कि एक्सिस द्वारा उनको निकालना गलत है। एक कानूनी फर्म ने इस नोटिस को भेजा है। इससे एक्सिस फंड की दिक्कतें और बढ़ सकती हैं।  

उधर, सूत्रों ने बताया कि सेबी इस मामले में अब एक्सिस म्यूचुअल फंड की काफई गहराई से जांच करने की तैयारी कर रही है। यही कारण है कि वह पहले सबूत जुटाना चाहती है और इसी वजह से 30 जगहों पर छापा मारा है। सेबी को पिछले कुछ महीनों से एनएसई की ओर से अलर्ट मिल रहा था। इस संदेहास्पद फ्रंट रनिंग को लेकर इसी अलर्ट के बाद मामला आगे बढ़ा।  

कहा जा रहा है कि सेबी के सर्च के दौरान काफी सारे कागजात और जानकारियां मिली हैं। यह छापा घरों और कार्यालयों पर मारा गया है। इसमें एक्सिस म्यूचुअल फंड के आफिस भी हैं। सेबी ने तमाम कागजात और डिजिटल सबूत को इकट्‌ठा किया है। इसमें मोबाइल फोन और लैपटाप है। उधर इस घटना के बाद से एक्सिस फंड की 5 स्कीमों के एनएवी में भारी गिरावट आई है। इससे निवेशकों को जमकर घाटा हुआ है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.