एयरलाइन की सेवाओं से खुश नहीं हैं यात्री, जमकर कर रहे हैं शिकायत 

मुंबई- भारत में हवाई सफर करने वाले यात्री एयरलाइन से मिलने वाली सेवा से खुश नहीं हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक ग्राहक सेवा और एयरलाइन के स्टाफ का व्यवहार भी कोविड-19 के बाद बुरा हो गया है। लोकल सर्कल के सर्वे के मुताबिक 15,000 एयरलाइन यात्रियों में से लगभग 79% का मानना ​​​​है कि भारत में एयरलाइन कंपनियां यात्रियों से समझौता कर रही हैं और महामारी का बहाना बनाकर जिम्मेदारी से बच रही हैं। 

सर्वे में हिस्सा लेने वाले लोगों ने सबसे खराब सर्विस स्पाइसजेट लिमिटेड की बताई, इसके बाद देश की सबसे बड़ी 55% मार्केट शेयर वाली एयरलाइन इंडिगो रही। सभी एयरलाइन्स की शिकायतों में उड़ान में देरी, घटिया इन-फ्लाइट सर्विस, खराब बोर्डिंग प्रोसेस और एयरक्राफ्ट के खराब इंटीरियर का होना बताया गया है। 

हाल ही में एक हाई-प्रोफाइल घटना में, इंडिगो ने एक विकलांग किशोर को फ्लाइट में चढ़ने से रोक दिया और कहा कि यह लड़का गड़बड़ी कर रहा है, जिससे सेफ्टी के लिए खतरा पैदा हो सकता है। भारत के एविएशन रेगुलेटर ने इस मामले की जांच शुरू की, जिसमें पाया गया कि इंडिगो नियमों का पालन नहीं कर रहा था और उसके कर्मचारियों ने पैसेंजर को अनुचित तरीके से हैंडल किया। इस पर जांच जारी है। 

हाल ही में एक वायरल वीडियो भी सामने आ चुका है जिसमें एक महिला को पैनिक अटैक आ गया। इसके पीछे की वजह एअर इंडिया महिला को यह कहते हुए बोर्डिंग से रोका गया कि वह गेट बंद होने के बाद आई थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.