मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेस के 8 कर्मचारियों पर एफआईआर 

मुंबई। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेस के 8 कर्मचारियों पर एक महिला कर्मचारी के साथ गलत व्यवहार को लेकर एफआईआर दर्ज की गई है। दादर पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज किया है।  

दादर पुलिस के एफआईआर के मुताबिक, कंपनी में शिकायत करने के बाद महिला को निकाल दिया गया था। एफआईआर के मुताबिक, इस पर कार्रवाई की जाएगी। जिन लोगों के खिलाफ एफआईआऱ् हुई है उसमें मुख्य मानव संसाधन अधिकारी सुधीर धार,एसोसिएट निदेशक गौरव मनिहार, रोहित सिहं, अंकित जोबनपुत्रा, विजय अग्रवाल, रोहन अडावले, सूरज पवार और प्रिंस शर्मा हैं।  

कंपनी ने कहा है कि वह एफआईआर को रद्द कराने के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाएगी। 37 साल की महिला यहां पर काम करती थी और उसे 6 मई को निलंबित कर दिया गया था। उससे इस बारे में कोई बात भी नहीं की गई। महिला ने कहा कि इसके बाद उसने पुलिस का रूख किया। महिला का आरोप है कि मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल ने एक पूर्व सांसद को इस मामले में लाया। 

महिला ने कहा कि जिन लोगों के खिलाफ एफआईआर है वे सभी कंपनी के पेरोल पर काम कर रहे हैं। मोतीलाल ओसवाल ने हालांकि इन आरोपों को गलत बताया है और कहा है क वे कोर्ट में इसकी अपील करेंगे। कंपनी ने कहा कि महिला के खिलाफ ढेर सारी शिकायतें मिली थीं और इसके बाद उसे निकाल दिया गया। कंपनी ने कहा कि महिला ने ऐसा पहले भी किया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.