अडाणी ग्रुप की यह कंपनी देगी भारी-भरकम लाभांश, जानिए कौन है 

मुंबई- भारत और एशिया के सबसे बड़े रईस गौतम अडानी की अगुवाई वाले अडानी ग्रुप के निवेशकों के लिए अच्छी खबर है। ग्रुप की कंपनी अ़डानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकनॉमिक जोन के बोर्ड ने निवेशकों को वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 250 फीसदी डिविडेंड देने की सिफारिश की है। 

कंपनी बोर्ड ने मंगलवार को चौथी तिमाही के नतीजों की घोषणा करते हुए कहा कि उसके बोर्ड ने निवेशकों को दो रुपये के पूर्ण चुकता शेयर पर पांच रुपये का डिविडेंड देने की सिफारिश की है। मार्च, 2022 को समाप्त तिमाह में कंपनी का नेट प्रॉफिट 21 फीसदी की गिरावट के साथ 1,024 करोड़ रुपये रहा जबकि रेवेन्यू छह फीसदी की तेजी के साथ 3,845 करोड़ रुपये रहा।  

इस दौरान कंपनी का Ebitda 19% की गिरावट के साथ 1,858.8 करोड़ रुपये रहा। अडानी पोर्ट्स एंड एसईजेड देश की सबसे बड़ी इंटिग्रेटेड पोर्ट्स और लॉजिस्टिक्स कंपनी है। इस साल कंपनी के शेयरों में एक फीसदी गिरावट आई है जबकि अडानी ग्रुप के शेयरों में करीब तीन फीसदी तेजी आई है। 

अडानी ग्रुप की सात कंपनियां लिस्टेड हैं। इनमें अडानी ग्रीन एनर्जी का मार्केट 341,786 करोड़ रुपये का है। ग्रुप की फ्लैगशिप कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज का मार्केट कैप 247,563 करोड़ रुपये और अडानी टोटल गैस का मार्केट कैप 243,904  करोड़ रुपये है। अडानी ट्रांसमिशन का मार्केट कैप 233,137 करोड़ रुपये है। इसी तरह अडानी पोर्ट्स का मार्केट कैप 151,013 करोड़ रुपये है। अडानी पावर का मार्केट कैप 117,154 करोड़ रुपये और हाल में लिस्ट हुई कंपनी अडानी विल्मर का मार्केट कैप 86,422 करोड़ रुपये है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.