एनएचपीसी का मुनाफा 515 करोड़, पावर फाइनेंस को 4,295 करोड़ का फायदा 

नई दिल्ली। सरकारी कंपनी एनएचपीसी को जनवरी-मार्च की चौथी तिमाही में 515 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ है। एक साल पहले 482 करोड़ की तुलना में यह 7 फीसदी ज्यादा है। कुल आय मामूली घटकर 2,026 करोड़ रुपये रही जबकि साल भर का पूरा फायदा 3,774 करोड़ रुपये रहा। 

कंपनी ने बताया कि एक साल पहले उसका फायदा 3,540 करोड़ रुपये था। साल भर में उसकी आय 10,152 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 10,710 करोड़ रुपये थी। कंपनी के निदेशक मंडल ने हर शेयर पर 5 रुपये का लाभांश देने का निर्णय लिया है।  

इसके लिए सालाना मीटिंग में शेयरधारकों से मंजूरी ली जाएगी। 2020-21 में इसने 1.31 रुपये हर शेयर पर लाभांश दिया था। बोर्ड ने इसी के साथ 6,300 करोड़ रुपये चालू वित्तवर्ष में जुटाने की मंजूरी भी दे दी है। यह रकम सुरक्षित, गैर सुरक्षित और एनसीडी आदि के जरिये जुटाई जाएगी। 

उधर, पावर फाइनेंस कारपोरेशन ने कहा है कि चौथी तिमाही में उसका फायदा 10 फीसदी बढ़कर 4,295 करोड़ रुपये हो गया है। एक साल पहले यह 3,906 करोड़ रुपये था। इसकी कुल आय चौथी तिमाही में 18,873 करोड़ रुपये रही जो एक साल पहले 18,155 करोड़ रुपये थी।  

साल भर में इसका शुद्ध लाभ 18,768 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 15,716 करोड़ रुपये था। इसने कहा कि साल भर में कुल राजस्व 76,344 करोड़ और एक साल पहले 71,700 करोड़ रुपये था। इसने 1.25 रुपये हर शेयर पर लाभांश देने की घोषणा की है। इसका एनपीए 1.76 फीसदी रहा जो एक साल पहले 2.09 फीसदी था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.