इंडिगो को चौथी तिमाही में 1,681 करोड़ रुपये का भारी भरकम घाटा 

मुंबई- कम बजट वाली एयरलाइन इंडिगो को ऑपरेट करने वाली कंपनी इंटरग्लोब एविएशन को मार्च 2022 तिमाही में 1,681 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। पिछले साल की समान तिमाही में एयरलाइन कंपनी को 1,147.20 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।  

पिछले वित्त वर्ष की दिसंबर तिमाही में कंपनी को 128 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। कंपनी के शेयर बुधवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में 2.08 फीसदी की गिरावट के साथ 1,648 रुपये पर बंद हुए हैं। जनवरी-मार्च 2022 तिमाही में इंटरग्लोब एविएशन को ऑपरेशंस से मिलने वाली कमाई 29 फीसदी बढ़कर 8,020 करोड़ रुपये रही।  

पिछले साल की समान अवधि के दौरान कंपनी का रेवेन्यू 6,223 करोड़ रुपये था। हालांकि, पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले फ्यूल प्राइसेज 61 फीसदी बढ़े हैं। साथ ही, पिछले साल की मार्च तिमाही के मुकाबले मार्च 2022 तिमाही में पैसेंजर्स की संख्या 10.3 फीसदी बढ़ी है। इंटरग्लोब एविएशन ने बताया है कि सालाना आधार पर उसका ईंधन का खर्च बढ़कर 3,220.60 करोड़ रुपये रहा, जो कि पिछले साल की समान अवधि में 1,914.50 करोड़ रुपये था।  

31 मार्च 2022 को खत्म तिमाही में इंटरग्लोब एविएशन के पास 275 एयरक्राफ्ट थे, जिनमें से 261 एयरक्राफ्ट किराये पर थे, जबकि 14 एयरक्राफ्ट खुद के या फाइनेंस लीज पर थे। वहीं, 31 दिसंबर 2021 को खत्म तिमाही में कंपनी के पास 283 एयरक्राफ्ट थे, जबकि एक साल पहले की समान अवधि में कंपनी के पास 285 एयरक्राफ्ट थे।   

Leave a Reply

Your email address will not be published.