एक महीने में शेयर बाजार के निवेशकों को 34 लाख करोड़ का घाटा  

मुंबई- शेयर बाजार में गिरावट से पिछले एक महीने में निवेशकों के 34 लाख करोड़ रुपये स्वाहा हो गए हैं। इससे न केवल छोटे निवेशक प्रभावित हुए हैं बल्कि राकेश झुनझुनवाला जैसे अनुभवी निवेशक को भी भारी नुकसान हुआ है।  

आंकड़ों के मुताबिक झुनझुनवाला के टॉप 10 शेयरों में पिछले एक महीने में 16 फीसदी तक गिरावट आई है जबकि इस दौरान बीएसई सेंसेक्स में आठ फीसदी गिरावट आई है। 31 मार्च के बाद झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो की वैल्यू में 5,300 करोड़ रुपये की गिरावट आई है। यह 33,754 करोड़ रुपये से गिरकर 28,436 करोड़ रुपये रह गई है। 

झुनझुनवाला के पसंदीदा स्टॉक टाइटन कंपनी के शेयरों में पिछले एक महीने में 15 फीसदी गिरावट आई है। झुनझुनवाला और उनकी पत्नी रेखा झुनझुनवाला की टाटा ग्रुप की इस कंपनी में 5.1 फीसदी हिस्सेदारी है जिसकी कीमत बुधवार को 9,484.60 करोड़ रुपये रह गई थी।  

इसी तरह स्टार हेल्थ एंड अलाइड इंश्योरेंस कंपनी के शेयरों में इस दौरान 7.5 फीसदी गिरावट आई है। झुनझुनवाला दंपति इस कंपनी में प्रमोटर है। इस कंपनी में उनकी 17.5 फीसदी हिस्सेदारी है जिसकी कीमत 6,910 करोड़ रुपये रह गई है। 

झुनझुनवाला के शेयर पोर्टफोलियो में तीसरा सबसे बड़ा स्टॉक मेट्रो ब्रांड्स है। इस शेयर में पिछले एक महीने में 13 फीसदी गिरावट आई है। इस कंपनी में झुनझुनवाला की 14.4 per फीसदी हिस्सेदारी है। टाटा मोटर्स के शेयर पिछले एक महीने में 12 फीसदी गिरे हैं। यह झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में चौथा सबसे बड़ा शेयर है।  

इसी तरह केनरा बैंक में पिछले एक महीने में 16.3 फीसदी और फेडरल बैंक में 7.88 फीसदी गिरावट आई है। इंडियन होटल्स और एनसीसी (NCC) के शेयरों में भी झुनझुनवाला की हिस्सेदारी है। पिछले एक महीने में इंडियन होटल्स के शेयरों में 11 फीसदी और एनसीसी के शेयरों में नौ फीसदी गिरावट आई है। 

इसी तरह क्रिसिल में उनकी 5.5 फीसदी हिस्सेदारी है। इसमें पिछले एक महीने में सात फीसदी गिरावट आई है और इसमें उनकी हिस्सेदारी की कीमत 1,277 करोड़ रुपये रह गई है। फोर्टिस हेल्थकेयर में झुनझुनवाला की 4.2 फीसदी हिस्सेदारी है। पिछले एक महीने में इसमें 13 फीसदी गिरावट आई है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.