स्विगी की ड्रॉप ऑफ सेवा बंद, कर्मचारियों की कमी से लिया फैसला  

मुंबई- फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म स्विगी ने प्रमुख महानगरों में अपनी पिक-अप और ड्रॉप-ऑफ सर्विस जिनी को अस्थायी रूप से बंद कर दिया है। इसकी वजह है कि कंपनी डिलीवरी कर्मचारियों को काम पर रखने और मांग को पूरा करने में संघर्ष से जूझ रही है।  

स्विगी जिनी की सेवाएं मुंबई, हैदराबाद और बेंगलुरु में प्रभावित हुई हैं। मामले से वाकिफ लोगों का कहना है कि यह सेवा पिछले सात दिनों से उपलब्ध नहीं है। एक व्यक्ति ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, ‘कंपनी फूड-डिलीवरी और अपने क्विक कॉमर्स बिजनेस इंस्टामार्ट को प्राथमिकता दे रही है।’ 

स्विगी के प्रवक्ता के मुताबिक, ‘स्विगी जिनी 68 में से 3 शहरों में अस्थायी रूप से उपलब्ध नहीं है। क्रिकेट और त्योहारी सीजन के कारण फूड मार्केटप्लेस और इंस्टामार्ट दोनों के लिए जरूरतों की पूर्ति की मांग में वृद्धि हुई है, जिसके लिए हमें इन डिलीवरी को प्राथमिकता देने की आवश्यकता है। हम जल्द ही प्रभावित शहरों में स्विगी जिनी के फिर से शुरू होने की उम्मीद में हैं।’ 

ईंधन की बढ़ती कीमतों और अर्थव्यवस्था में समग्र मुद्रास्फीति के बीच कई खाद्य और किराना वितरण कंपनियां अपने राइडर्स को भुगतान बढ़ाने में असमर्थ रही हैं। इसके परिणामस्वरूप गिग इकॉनमी में सप्लाई साइड के मुद्दे सामने आए हैं। 

विशेषज्ञों के मुताबिक, ये राइडर्स बाइक टैक्सी और ई-कॉमर्स डिलीवरी सहित अन्य विकल्पों पर विचार कर रहे हैं। महामारी के दौरान जब अन्य रोजगार विकल्प घटते गए तो डिलीवरी पार्टनर, गिग वर्कफोर्स में शामिल हो गए। लेकिन अब उन्हें नौकरी के बेहतर अवसर मिल रहे हैं क्योंकि अर्थव्यवस्था खुल रही है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.