मार्च तिमाही में डेट म्यूचुअल फंडों से निकले 1.2 लाख करोड़ रुपये  

मुंबई- डेट म्यूचुअल फंड स्कीमों से निवेशकों ने मार्च तिमाही में 1.2 लाख करोड़ रुपये की निकासी की है। इसमें लिक्विड, शॉर्ट ड्यूरेशन और कॉरपोरेट बांड शामिल हैं। आंकड़ों के मुताबिक, 2021-22 में इस कैटेगरी से शुद्ध निकासी 68,471 करोड़ रुपये रही। एक साल पहले इसमें 2.3 लाख करोड़ रुपये का निवेश आया था।  

दिसंबर तिमाही में इसमें 21,277 करोड़ रुपये आए थे। कुल 16 फिक्स्ड इनकम या डेट फंड कैटेगरी में से 15 स्कीमों में मार्च तिमाही के दौरान निकासी हुई। केवल ओवरनाइट फंड सेगमेंट में ही पैसा आया और यह 7,802 करोड़ रुपये रहा। 

आंकड़ों के मुताबिक मार्च महीने में डेट से कुल 1.15 लाख करोड़ और फरवरी महीने में 8,274 करोड़ रुपये निकाले गए। जनवरी में 5,087 करोड़ रुपये की निकासी की गई। जानकार कहते हैं कि किसी भी साल की अंतिम तिमाही में डेट सेगमेंट से हमेशा पैसे की निकासी होती है।  

ज्यादातर निकासी संस्थागत निवेशक करते हैं और इसमें लिक्विड, अल्ट्रा शॉर्ट टर्म, मनी मार्केट आदि से पैसा निकाला जाता है। दिसंबर तिमाही में डेट फंड का कुल एयूएम 14.05 लाख करोड़ रुपये था जो मार्च तिमाही में 13 लाख करोड़ रुपये रह गया। शॉर्ट टर्म ड्यूरेशन से 24 हजार करोड़, कारपोरेट बांड से 23,122 करोड़ और लिक्विड से 18,723 करोड़ रुपये की निकासी की गई। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.