100 अरब डॉलर राजस्व वाली पहली कंपनी बनी रिलायंस इंडस्ट्रीज  

मुंबई। देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लि. (आरआईएल) को तेल और दूरसंचार के बल पर मार्च तिमाही में 16,203 करोड़ रुपये का फायदा हुआ है। एक साल पहले 13,277 करोड़ की तुलना में यह 22 फीसदी ज्यादा है। इसी दौरान राजस्व 37 फीसदी बढ़कर 2.11 लाख करोड़ रुपये हो गया।  

एक साल में 100 अरब डॉलर का राजस्व हासिल करने वाली देश की पहली कंपनी बन गई है। 2021-22 में इसका राजस्व 7.92 लाख करोड़ रुपये यानी 100 अरब डॉलर से ज्यादा रहा। पूरे साल के दौरान इसका मुनाफा भी 67,845 करोड़ रुपये रहा। कंपनी ने 8 रुपये प्रति शेयर के लाभांश की घोषणा की है। 

हालांकि केवल रिलायंस की बात करें तो इसका लाभ 45 फीसदी बढ़कर 11094 करोड़ रुपये रहा और राजस्व 54 फीसदी बढ़कर 1.40 लाख करोड़ रुपये रहा। सालाना आधार पर अकेले का राजस्व 4.66 लाख करोड़ जबकि शुद्ध फायदा 39,084 करोड़ रुपये रहा। 

इसकी दूरसंचार कंपनी जियो का तिमाही में फायदा 24 फीसदी बढ़कर 4,173 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 3,360 करोड़ रुपये था। सालाना मुनाफा 23 फीसदी बढ़कर 15,487 करोड़ रहा। रिलायंस रिटेल का सालाना राजस्व 1.99 लाख करोड़ रुपये जबकि शुद्ध फायदा 7,056 करोड़ रुपये रहा। साल में कंपनी ने 2,566 नए रिटेल आउटलेट खोले जिससे कुल आउटलेट की संख्या 15,196 हो गई।  

रिलायंस के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने कहा, “महामारी के कारण चल रही चुनौतियों और जियोपॉलिटिकल अनिश्चितता के बढ़ने के बावजूद, रिलायंस ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में मजबूत प्रदर्शन दिया है। मुझे अपने डिजिटल सर्विसेज और रिटेल सेगमेंट में मजबूत ग्रोथ से खुशी है।” उन्होंने कहा, “हमारे ऑयल से केमिकल बिजनेस ने एनर्जी मार्केट में अस्थिरता के बावजूद मजबूत रिकवरी दिखाई है।” 

Leave a Reply

Your email address will not be published.