राकेश झुनझुनवाला को 1500 करोड़ रुपये का घाटा हुआ  

मुंबई- शेयर बाजार के दिग्गज निवेशक और बिग बुल कहे जाने वाले राकेश झुनझुनवाला के लिए फाइनेंशियल ईयर 2022 का पहला यानी अप्रैल महीना ठीक नहीं रहा। अप्रैल महीने में अखिरी कारोबारी दिन के दोपहर 2 बजे तक उनके पोर्टफोलियो की वैल्यू करीब 1500 करोड़ रुपये कम हो चुकी है।  

उनके पोर्टफोलियो में शामिल सभी 34 शेयरों की मौजूदा वैल्यू 32,260 करोड़ रुपये है। जबकि मार्च 2022 की अंत में उनके पोर्टफोलियो की वैल्यू 33,754 करोड़ रुपये थी। अप्रैल में बाजार के उतार चढ़ाव का भी उनके पोर्टफोलियो पर असर हुआ है, वहीं कुछ शेयरों में उन्होंने अपनी होल्डिंग भी कम की है। 

होल्डिंग की लिहाज से टाइटन उनके पोर्टफोलियो में शामिल सबसे बड़ा शेयर है। कंपनी के शेयर बीते 1 महीने में करीब 2 फीसदी कमजोर हुए हैं। इस दौरान शेयर 2539 रुपये से घटकर 2484 रुपये पर आ गया। कंपनी में राकेश झुनझुनवाला की 5.1 फीसदी के करीब हिस्सेदारी है।  

टाटा मोटर्स के शेयर में 2 फीसदी से ज्यादा तेजी रही है। इस दौरान शेयर 434 रुपये से 446 रुपये पर पहुंच गया। कंपनी में राकेश झुनझुनवाला की 1.2 फीसदी हिस्सेदारी है. उनके पोर्टफोलियो में कंपनी के 39,250,000 शेयर हैं। कैनरा बैंक में 1 महीने में करीब 2 फीसदी की तेजी आई है। इस दौरान शेयर 232 रुपये से 236 रुपये पर पहुंच गया है। मार्च तिमाही में बैंक में राकेश झुनझुनवाला की हिस्सेदारी 1.6 फीसदी से बढ़कर 2 फीसदी हो गई है। 

इसी तरह फेडरल बैंक का शेयर 1 महीने में 1 फीसदी कमजोर हुआ है। शेयर इस दौरान 98 रुपये से 97 रुपये हो गया। राकेश झुनझुनवाला की बैंक में 3.7 फीसदी हिस्सेदारी है. पोर्टफोलियो में 75,721,060 शेयर हैं। इंडियन होटल के शेयर में 1 महीने में 6 फीसदी से ज्यादा तेजी आई है। इस दौरान शेयर 241 रुपये से 256 रुपये पर पहुंच गया है। कंपनी में राकेश झुनझुनवाला की 2.1 फीसदी हिस्सेदारी है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.