साइकल की बिक्री में जबरदस्त गिरावट, 4.3 फीसदी की आई कमी 

मुंबई- कोरोना काल में पैदा हुई आर्थिक बदहाली का असर धीरे-धीरे अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों में दिखाई पड़ रहा है। वित्त वर्ष 2021-22 में इसके पूर्व वर्ष की तुलना में साइकिलों की बिक्री में लगभग छह फीसदी की कमी आई है। वित्त वर्ष 2020-21 में देश में कुल 1,21,65,800 साइकिलों की बिक्री हुई थी, जबकि बीते वित्त वर्ष में 1,14,37,826 साइकिलों की ही बिक्री हुई।  

ग्रामीण अर्थव्यवस्था के मानक के तौर पर देखी जाने वाली रोडस्टर साइकिलों की बिक्री में भी 4.3 फीसदी की कमी दर्ज की गई है। इसे ग्रामीणों और श्रमिकों की खराब आर्थिक स्थिति का परिणाम बताया जा रहा है। इसी प्रकार फैंसी साइकिलों और बच्चों की साइकिलों की बिक्री में भी कमी आई है। 

आर्थिक हालात खराब होने का सबसे ज्यादा असर बच्चों की साइकिलों के सेगमेंट पर पड़ा है। खराब आर्थिक हालात में लोगों ने बच्चों के लिए साइकिल खरीदने से दूरी बरती और इस कारण किड्स साइकिल सेगमेंट में 38 फीसदी से ज्यादा की रिकॉर्ड कमी दर्ज की गई। जबकि इसके पहले के वर्ष में इस सेगमेंट की बिक्री में वृद्धि दर्ज की गई थी।     

ऑल इंडिया साइकिल मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (AICMA) से मिली जानकारी के अनुसार वित्त वर्ष 2020-21 में देश में कुल 1,21,65,800 साइकिलों की बिक्री हुई थी। लेकिन बीते वित्त वर्ष में साइकिलों की बिक्री में सात लाख 27 हजार 974 (लगभग 5.93 फीसदी) की कमी दर्ज की गई। संगठन के आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान देश में कुल 1,14,37,826 साइकिलों की बिक्री हुई। 

ग्रामीण अर्थव्यवस्था का हाल बुरा, रोडस्टर साइकिलों की बिक्री में कमी 

आम तौर पर ग्रामीण और गरीब तबके के लोग आवागमन के लिए और सामान इत्यादि लाने-ले जाने के लिए इस वर्ग की साइकिलों की खरीद सबसे ज्यादा करते हैं। इस कैटेगरी की साइकिलों की बिक्री में कमी को उनके पास रोजगार और पैसे की कमी के रूप में भी देखा जाता है। इस लिहाज से रोडस्टर साइकिलों की बिक्री में कमी देश के लिए चिंता पैदा करने वाली है।     

रोडस्टर साइकिलों के बाद सबसे ज्यादा बिकने वाली साइकिलों की संख्या फैंसी साइकिलों की होती है। बीते वर्ष भी कुल साइकिलों की बिक्री में भी यह दूसरे स्थान पर रही। इस दौरान कुल 40 लाख 54 हजार 174 फैंसी साइकिलें बेची गईं। हालांकि, इनकी बिक्री में भी कमी आई है।  

साइकिलों की बिक्री में प्रतिशत के लिहाज से सबसे ज्यादा कमी बच्चों के लिए बिकने वाली साइकिलों में दर्ज की गई। बच्चों के लिए बिकने वाली साइकिलों की कैटेगरी में 2020-21 में 20 लाख 13 हजार 691 साइकिलों की बिक्री की गई थी, लेकिन बीते वर्ष 2021-22 में यह संख्या घटकर केवल 12 लाख 39 हजार 342 रह गई। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.