स्वास्थ्य बीमा जल्दी क्यों लेना है जरूरी, समझिए कितना अहम है   

मुंबई- कोविड-19 महामारी के चलते लोगों में स्वास्थ्य को लेकर जागरूकता बढ़ी है। ऐसे समय में स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों की अहमियत को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता. एक प्रसिद्ध चीनी कहावत है, “पेड़ लगाने का सबसे अच्छा समय 20 साल पहले था। दूसरा सबसे अच्छा समय अब है.” इसका मतलब है कि आपको सभी जरूरी काम जितनी जल्दी हो सके निपटा लेने चाहिए और अपने जीवन के अहम निर्णय लेने में देरी से बचना चाहिए। 

इस बारे में अनुमान नहीं लगाया जा सकता कि कब हमें हेल्थ इमरजेंसी का सामना करना पड़ जाए। चाहे हमारी उम्र कम हों या बूढ़े हो गए हों, हमें अपने जीवन के किसी भी समय में स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इन आपात स्थितियों में पैसे की दिक्कत न हो, इसके लिए सही समय पर एक अच्छी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी खरीदने की सलाह दी जाती है और इसका सही समय अभी है। 

जिस दिन आप पैसा कमाना शुरू करते हैं या आर्थिक रूप से इंडिपेंडेट हो जाते हैं, उसी दिन आपको हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज खरीद लेना चाहिए. आइए जानते हैं कि आपके लिए स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी खरीदने का सही समय कब है? अक्सर लोगों को लगता है कि वे बिल्कुल स्वस्थ हैं और उन्हें फिलहाल हेल्थ पॉलिसी की जरूरत नहीं है, लेकिन यह एक बड़ी गलती है. जब आपकी उम्र 20 की हो, तो आप कम कीमत पर हेल्थ पॉलिसी खरीद सकते हैं।  

आमतौर पर, जब आप युवा होते हैं तो आपको किसी भी गंभीर बीमारी का खतरा कम होता है. जैसे-जैसे लोग बड़े होते जाते हैं, तबीयत बिगड़ने की संभावना बढ़ती जाती है. जब आप युवा होते हैं, तो आपको खुद को स्वस्थ साबित करने के लिए किसी मेडिकल टेस्ट की जरूरत नहीं होती है. इसके उलट, अगर आप उम्र बढ़ने के बाद बीमा पॉलिसी खरीदते हैं, तो बीमा कंपनी हेल्थ पॉलिसी जारी करने से पहले आपका कई तरह का मेडिकल टेस्ट करती है। 

कम उम्र में ही हेल्थ पॉलिसी खरीदने का एक फायदा यह भी है कि इस उम्र में आमतौर पर आपके पास बचत नहीं होती है। ऐसे में, यानी तबीयत बिगड़ने की स्थिति में आपको पैसों को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं होगी. इसके और भी फायदे हैं। उदाहरण के लिए, मान लें कि आपने कम उम्र में ही हेल्थ पॉलिसी खरीदी है और पॉलिसी वर्ष के दौरान कोई क्लेम नहीं किया है। इस स्थिति में, बीमा कंपनी बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के सभी क्लेम-फ्री ईयर के लिए आपके कवर का साइज बढ़ाकर आपको नो क्लेम बोनस (NCB) देती है। 

हेल्थ कवरेज होने से आपको बेहतर फाइनेंशियल प्लानिंग करने में मदद मिल सकती है। इसकी मदद से हेल्थ इमरजेंसी के चलते आपके फाइनेंशियल गोल्स प्रभावित नहीं होंगे. इसके अलावा, हेल्थ इंश्योरेंस के लिए प्रीमियम का भुगतान करते हुए आप धारा 80डी के तहत टैक्स डिडक्शन का फायदा भी उठा सकते हैं। आप एक वित्तीय वर्ष में 25,000 रुपये तक के टैक्स डिडक्शन के लिए क्लेम कर सकते हैं। अगर आप 20 साल की उम्र में कोई हेल्थ पॉलिसी खरीदते हैं, तो आपको कम उम्र से ही धारा 80डी के तहत टैक्स बेनिफिट मिलना शुरू हो सकता है. इस तरह, आप लंबी अवधि में बहुत सारे टैक्स बचा सकते हैं। 

आप बिना मेडिकल टेस्ट के हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी 30 या 40 की उम्र में खरीद सकते हैं। अगर बीमा पॉलिसी खरीदने वाले व्यक्ति की उम्र 45 वर्ष से अधिक है, तो ज्यादातर कंपनियां मेडिकल टेस्ट करने के लिए कहती हैं। अगर आपकी आयु 45 वर्ष से अधिक है और आपको पहले से कोई स्वास्थ्य संबंधी बीमारी नहीं है, तो आप केवल बीमा कंपनी द्वारा तय मेडिकल टेस्ट कराकर हेल्थ पॉलिसी खरीद सकते हैं। जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, स्वास्थ्य खराब होने के कारण हेल्थ पॉलिसी मिलना मुश्किल होता जाता है। एक बार जब आप 60 वर्ष की आयु पार कर लेते हैं, तो आपके लिए हेल्थ इंश्योरेंस विकल्प कम हो जाते है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.