एलआईसी को लगा झटका, निजी कंपनियों की तुलना में कम बढ़ा प्रीमियम 

मुंबई- वित्तवर्ष 2021-22 में जीवन बीमा कंपनियों के प्रीमियम में 13 फीसदी की तेजी दर्ज की गई है। इस दौरान कुल प्रीमियम 3.14 लाख करोड़ रुपये रहा जो कि एक साल पहले 2.78 लाख करोड़ रुपये था। देश में कुल 24 जीवन बीमा कंपनियां इस समय कारोबार कर रही हैं।

हालांकि निजी कंपनियों की तुलना में एलआईसी को झटका लगा है। इसका नया बिजनेस प्रीमियम केवल 8 फीसदी बढ़ा जबकि निजी कंपनियों का प्रीमियम 23 फीसदी बढ़ा है। इंश्योरेंस रेगुलेटरी डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (आईआरडीएआई) के आंकड़ों के मुताबिक, देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी एलआईसी ने 1.98 लाख करोड़ रुपये का बीमा हासिल किया है जो एक साल पहले 1.84 लाख करोड़ रुपये था। यानी इसमें आठ फीसदी से ज्यादा की बढ़त आई है।  


एलआईसी को छोड़कर 23 कंपनियां निजी क्षेत्र की हैं। 2021-22 में इनका कुल प्रीमियम 23 फीसदी बढ़कर 1.15 लाख करोड़ रुपये रहा जो एक साल पहले 94 हजार करोड़ रुपये था। कोरोना की वजह से ज्यादा लोगों ने बीमा लेना शुरू किया, जिसकी वजह से प्रीमियम में तेजी दिखी है। एलआईसी ने पिछले वित्तवर्ष में हर मिनट में 41 पॉलिसियों की बिक्री की है। यानी हर घंटे इसने 2,460 पॉलिसियां बेची है। 2021-22 में इसने 2.17 करोड़ पॉलिसी बेची थी जबकि उसके पहले के साल में 2.09 करोड़ पॉलिसी बेची थी। कंपनी इसी महीने या अगले महीने की शुरुआत में आईपीओ ला सकती है, जो देश का सबसे बड़ा इश्यू होगा।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.