अडाणी ग्रीन एनर्जी मार्केट कैप में सातवीं सबसे बड़ी कंपनी बनी 

मुंबई- अडाणी ग्रीन  ने मार्केट कैप के मामले में फिर से नया कीर्तिमान स्थापित किया है। कंपनी ने मार्केट कैप के मामले में देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) को पीछे छोड़ दिया है। कल के कारोबार में अडाणी ग्रुप की रिन्यूएबल एनर्जी कंपनी दलाल स्ट्रीट पर सातवीं सबसे ज्यादा वैल्यू वाली कंपनी बनकर उभरी।  

सेंसेक्स 57000 के नीचे फिसलता नजर आया और निफ्टी 17,100 के स्तर को बचाने के लिए संघर्ष करता नजर आया। वहीं अडाणी ग्रीन के शेयरों ने सेंसेक्स निफ्टी के साथ ही दूसरे अहम इंडेक्सों के तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया। हाल के हाई रिकॉर्ड के साथ ही अडाणी ग्रीन का शेयर 185 फीसदी की बढ़त के साथ इस साल का मल्टीबैगर रहा है।  

पिछले साल 19 अप्रैल को यह स्टॉक 1055 रुपये पर नजर आ रहा था। वहीं अब मार्केट कैप 4,64,215 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। जो कि BSE पर मार्केट कैप के हिसाब से टॉप 10 शेयरों में सातवें नंबर पर आता है। SBI का मार्केट कैप 454619 करोड़ रुपये है जो कि अडाणी के मार्केट कैप 4,64,215 करोड़ रुपये से कम है। इस आधार पर देखें तो मार्केट कैप के लिहाज से होने वाली BSE की रैंकिंग में SBI सातवें नंबर से फिसलकर आठवें नंबर पर आ गया है। वहीं, अडाणी ग्रीन सातवें नंबर पर चला गया है।  

मार्केट कैप के लिहाज से इस समय सिर्फ HUl,HDFC,RIL,TCS, HDFC बैंक और इन्फोसिस ही अडाणी ग्रीन से आगे हैं। कंपनी को निवेशकों की ग्रीन एनर्जी सेगमेंट में दिलचस्पी बढ़ने का खासा फायदा मिला है। कंपनी का रिन्युएबिल एनर्जी पर जोर है और उसका शेयर अप्रैल, 2020 से अब तक 1,415 फीसदी का दमदार रिटर्न दे चुका है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.