एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी के शेयर्स में लगातार गिरावट जारी 

मुंबई- हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्प और एचडीएफसी बैंकके शेयरों में मंगलवार को लगातार छठे सत्र में गिरावट देखने को मिली। दो फाइनेंशियल सर्विसेस की बड़ी कंपनियों के बीच विलय की घोषणा को एक सप्ताह से अधिक समय हो गया।  

4 अप्रैल को घोषित प्रस्तावित विलय की खबर से HDFC twins के रूप में मशहूर दोनों शेयरों में 13 वर्षों की सबसे बड़ी एक दिन में बढ़त देखने को मिली थी। HDFC और HDFC Bank दोनों के शेयर सत्र के दौरान एक प्रतिशत तक गिर गए। इससे पहले कि कुछ इंट्राडे रिकवरी नजर आई थी। बीएसई पर HDFC का शेयर 24.8 रुपये की गिरावट के साथ 2,399.1 रुपये और HDFC Bank का शेयर 15.2 रुपये की गिरावट के साथ 1,481 रुपये पर आ गया। 

HDFC और HDFC Bank के बीच विलय शेयरधारक और नियामक की मंजूरी के अधीन है। HDFC Bank में वर्तमान में एचडीएफसी का लगभग 21 प्रतिशत हिस्सेदारी है। प्रस्तावित ऑल-स्टॉक डील में शेयरधारकों को HDFC में रखे गए प्रत्येक 25 शेयरों के लिए HDFC Bank के 42 शेयर मिलेंगे। इसके बाद एचडीएफसी बैंक संभवतः दुनिया के सबसे बड़े बैंकों में से एक बन जाएगा। 

फिच रेटिंग्स (Fitch Ratings) ने मंगलवार को कहा कि प्रस्तावित विलय का देश के बैंकिंग और नॉन-बैंक वित्तीय संस्थान (NBFI) सेक्टर्स पर दीर्घकालिक प्रभाव डाल सकता है। रेटिंग एजेंसी ने कहा कि HDFC-HDFC Bank गठबंधन बैंकों के लिए कॉम्पिटिटिव लैंडस्केप को फिर से परिभाषित कर सकता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.