रिजर्व बैंक ने 22 एनबीएफसी का रजिस्ट्रेशन रद्द किया 

मुंबई- देश की 22 नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियों (NBFC) के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट रद्द कर दिए गए हैं। ये सभी कंपनियां अब देश में NBFC के तौर पर कोई कारोबार नहीं कर सकती हैं। यह जानकारी सोमवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की तरफ से जारी एक बयान में दी गई है। 

रिजर्व बैंक ने बताया है कि जिन 22 NBFC के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट रद्द कर दिए गए हैं, उनमें बीएनपी पारिबा इंडिया फाइनेंस, स्विस लीजिंग एंड फाइनेंस और अवेलेबल फाइनेंस शामिल हैं। रिजर्व बैंक के मुताबिक इन सभी गैरबैंकिंग वित्तीय कंपनियों ने अपने रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट वापस कर दिए हैं। रिजर्व बैंक के मुताबिक इन सभी कंपनियों के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट सरेंडर किए जाने के बाद कैंसिल कर दिए गए हैं। 

इनके अलावा एस्सेल फाइनेंस होम लोन्स लिमिटेड ने भी नेशनल हाउसिंग बैंक (NHB) से मिला अपना रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट सरेंडर कर दिया है, जिसके बाद उसे भी कैंसिल कर दिया गया है। इसके साथ ही अब एस्सेल फाइनेंस होम लोन्स भी देश में हाउसिंग फाइनेंस कंपनी या गैरबैंकिंग वित्तीय कंपनी (NBFC) के तौर पर कोई कारोबार नहीं कर पाएगी। रिजर्व बैंक ने एक और बयान में बताया है कि उसने कर्णावती कैपिटल मार्केट लिमिटेड का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट भी कैंसिल कर दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.