अडाणी अब दुनिया में छठें नंबर के अमीर, कोरोना में कमाए 8.51 लाख करोड़ 

मुंबई- अडाणी ग्रुप के मालिक गौतम अडाणी अब दुनिया के अमीरों में छठें नंबर पर आ गए हैं। उनकी संपत्ति 9.30 लाख करोड़ रुपये रही जबकि मुकेश अंबानी की 7.5 लाख करोड़ रुपये है। अंबानी दुनिया के अमीरों की सूची में 10वें नंबर पर हैं।  

अडाणी की कंपनियों के शेयरों में तेजी ने उनकी संपत्ति बढ़ा दी है। उनकी सात लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 16 लाख करोड़ रुपये हो गया है। 2020 के पहले 2019 तक अडाणी की संपत्ति केवल 8 अरब डॉलर थी। जबकि अब दो साल बाद उनकी संपत्ति 121 अरब डॉलर हो गई है। उनकी सबसे बड़ी कंपनी ग्रीन एनर्जी है जो 4.22 लाख करोड़ रुपये की है। यह देश की सबसे बड़ी दसवें नंबर की कंपनी है।  

जबकि अडाणी ट्रांसमिशन 3.5 लाख करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण वाली कंपनी बन गई है। अंबानी अब वारेन बफे को पीछे छोड़ने की तैयारी में हैं। बफे की संपत्ति 127 अरब डॉलर है। ग्रीन एनर्जी के शेयरों में एक ही दिन में आई 20 फीसदी की तेजी से इसका मार्केट कैपिटलाइजेशन 4.22 लाख करोड़ से भी ज्यादा हो गया।  

इस दौरान अडाणी ग्रीन ने मार्केट कैप के लिहाज से भारती एयरटेल को 11वें नंबर पर धकेल दिया। दिलचस्प बात यह है कि दसवीं सबसे ज्यादा वैल्यूएशन वाली कंपनी बनने के बावजूद अडाणी ग्रीन एनर्जी NSE के प्रमुख बेंचमार्क इंडेक्स Nifty 50 में शामिल नहीं है। 

एनएसई (NSE) पर अडाणी ग्रीन शेयर सोमवार को 2786.20 रुपये पर बंद हुए। जबकि भारती एयरटेल का मार्केट कैप सोमवार को 4.16 लाख करोड़ ही रहा। अडाणी ग्रीन का मार्केट कैप अब कोटक महिंद्रा बैंक और आईटीसी जैसी दिग्गज कंपनियों से भी अधिक हो चुका है। अडाणी ग्रीन के शेयरों में पिछले कुछ अरसे के दौरान लगातार तेजी देखी जा रही है। सिर्फ 2022 के दौरान ही कंपनी के शेयर में अब तक 103 फीसदी से ज्यादा की रैली देखी जा चुकी है। 

भारत की प्रमुख कंपनियों में रिलायंस इंडस्ट्रीज 17.65 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा के मार्केट कैपिटलाइजेशन के साथ देश की सबसे ज्यादा वैल्यूएशन वाली कंपनी है। दिग्गज टेक्नॉलजी कंपनी टीसीएस (TCS) 13.52 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा के मार्केट कैप के साथ इस लिस्ट में दूसरे और एचडीएफसी बैंक करीब 8.3 लाख करोड़ रुपये के मार्केट कैपिटलाइजेशन के साथ तीसरे नंबर पर है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.