मुंबई में घरों की बिक्री जमकर, 1,131 करोड़ मिली मार्च में स्टैंप ड्यूटी 

मुंबई- मुंबई में मार्च 2022 में लगभग 1,131 करोड़ रुपये की स्टैम्प ड्यूटी जमा हुई। स्टैम्प ड्यूटी की ये रकम अब तक का सबसे अधिक मासिक कलेक्शन है और उसने एक महीने में सबसे ज्यादा स्टैम्प ड्यूटी कलेक्शन का रिकॉर्ड बनाया। इस साल यानी मार्च 2022 की रमक पिछले साल की समान अवधि में दर्ज 875 करोड़ रुपये के पिछले उच्च स्तर को पार कर चुका है। 

महाराष्ट्र के पंजीकरण महानिरीक्षक के आंकड़ों के अनुसार मार्च में 16,152 से अधिक आवासीय सौदे हुए। इस तरह कुल मिलाकर एक महीने में होने वाली डील्स की संख्या में यह अब तक की तीसरी सबसे बड़ी संख्या है। मार्च 2022 में डील्स में गति देखी गई क्योंकि सरकार ने 1 अप्रैल, 2022 से मुंबई, ठाणे, नवी मुंबई, पुणे, नासिक और नागपुर में 1 प्रतिशत मेट्रो उपकर लगाया है।  

इस उपकर की वजह से स्टैम्प ड्यूटी में बढ़ोत्तरी आने की आशंका के चलते प्रॉपर्टीज के रजिस्ट्रेशन में तेजी आई। इसके पीछे की मुख्य वजह रही कि प्रॉपर्टी खरीदार कम दर का लाभ उठाने के लिए दौड़ पड़े हैं। मार्च 2022 में फरवरी 2022 की तुलना में प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन में मासिक आधार पर 51 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई। 

मार्च 2022 में हुए कुल रजिस्ट्रेशन में 48 प्रतिशत रजिस्ट्रेशन 500-1,000 वर्ग फुट के घरों का हुआ। इसके बाद 500 वर्ग फुट तक के कॉम्पैक्ट घरों का रजिस्ट्रेशन हुआ आंकडों के लिहाज से देखें तो कुल रजिस्ट्रेशन में 36 प्रतिशत रजिस्ट्रेशन 500 वर्ग फुट के घरों का हुआ। मार्च 2022 में कुल हुए रजिस्ट्रेशन में 1 करोड़ रुपये और उससे कम दाम वाली वाली प्रॉपर्टीज का हिस्सा 46 प्रतिशत रहा जो कि फरवरी 2022 में 48 प्रतिशत से कम नजर आया। 

कुल हुए रजिस्ट्रेशन में से अधिकतम रजिस्ट्रेशन 1-5 करोड़ रुपये के प्राइस बैंड वाले घरों का हुआ। जबकि अपार्टमेंट आकार के मामले में, मध्यम आकार के घर (500 वर्ग फुट और 1,000 वर्ग फुट के बीच) सबसे ज्यादा पसंद किये गये। मार्च 2022 में रजिस्टर्ड प्रॉपर्टी में मध्यम आकार को घरों का बोलबाला रहा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.