रामदेव को सेबी का झटका, रुचि सोया में रिटेल निवेशक बोली वापस लेंगे   

मुंबई- रुचि सोया इंडस्ट्रीज लिमिटेड के 4,300 करोड़ रुपये के फॉलो-ऑन-ऑफर (FPO) में निवेश करने वाले रिटेल निवेशकों को मार्केट रेगुलेटर सेबी (SEBI) ने अपनी बोली वापस लेने के लिए 28 से 30 मार्च का समय दिया है। 

SEBI बहुत ही कम मौके पर ऐसे फैसले लेती है। दरअसल मार्केट रेगुलेटर सेबी ने पाया कि पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के ग्राहकों को इस इश्यू में निवेश करने के लिए कुछ अवांछित मैसेज भेजे गए हैं। इसी के बाद मार्केट रेगुलेटर ने निवेशकों को बोली वापस लेने का यह दुर्लभ मौका दिया है। 

पतंजलि के ग्राहकों को भेजे अवांछि मैसेज में लिखा था, “पतंजलि परिवार के सभी प्रिय सदस्यों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। पतंजलि ग्रुप की कंपनी रुचि सोया इंडस्ट्रीज लिमिटेड का फॉलो-ऑन ऑफर (FPO) रिटेल निवेशकों के खुल गया है। 28 मार्च को यह इश्यू बंद हो जाएगा। यह इश्यू 615-650 रुपये प्रति शेयर के भाव पर उपलब्ध है, जो बाजार भाव से 30 फीसदी कम है। आप अपने डीमैट अकाउंट से इस शेयर के लिए निवेश कर सकते हैं। 

सेबी ने इस मामले में प्रमुख बैंकिंग मैनेजरों को निर्देश दिया है कि वे सभी निवेशकों को ऐसे अवांछित SMS को लेकर आगाह करते हुए मंगलवार और बुधवार को समाचार पत्रों में विज्ञापन दें। रुचि सोया ने पिछले हफ्ते कंपनी को पूरी तरह के कर्ज मुक्त बनाने और सेबी के शेयरहोल्डिंग नियमों को पूरा करने के लिए 4,300 करोड़ रुपये का FPO लॉन्च किया था। 

रुचि सोया के FPO को सब्सक्राइब करने का आज यानी 28 मार्च आखिरी दिन था। आखिरी दिन तक यह इश्यू 3.6 गुना सब्सक्राइब हुआ। पहले दो दिनों में कंपनी के इश्यू को निवेशकों की बहुत अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिल पाई थी। रिटेल निवेशकों के हिस्से में कंपनी को 88 फीसदी बोली मिली। वहीं क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशन इनवेस्टर्स (QIB) का हिस्सा 2.2 गुना भरा। कंपनी को सबसे अधिक 11.75 गुना अधिक बोली नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (NII) के कोटे में मिली। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.