प्राइमरी का शिक्षक निकला 20 कॉलेजों का मालिक, देखिए कैसे कमाया पैसा 

मुंबई- आर्थिक अपराध शाखा ने ग्वालियर में कार्रवाई करते हुए एक प्राइमरी स्कूल के सहायक शिक्षक के घर छापा मारा। चार ठिकानों पर हुई कार्रवाई में शिक्षक के पास से 1000 गुना अधिक संपत्ति का खजाना जब्त किया गया है।  

छापेमारी के दौरान यह शिक्षक 20 कॉलेजों का मालिक निकला। शिक्षक की पहचान प्रशांत परमार के रूप में की गई है, जो कि मध्य प्रदेश के घाटीगांव में प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक के रूप में तैनात थे। पुलिस उपाधीक्षक सतीश चतुर्वेदी के मुताबिक, ग्वालियर और अन्य ठिकानों पर छापेमारी के बाद जांच में पता चला है कि परमार के पास ग्वालियर-चंबल संभाग में D.Ed और B.Ed कोर्स चलाने वाले 20 कॉलेज हैं। 

इन कॉलेजों से संबंधित दस्तावेजों की जांच चल रही है। चतुर्वेदी ने आगे कहा कि परमार के पास संपत्ति उनके ज्ञात स्रोतों से 1,000 गुना अधिक है। उनके पास 4 ऑफिस भी हैं। उन्होंने कहा कि अभी छापेमारी चल रही है। आय से अधिक संपत्ति के बारे में और जानकारी जुटाई जा रही है। चतुर्वेदी के अनुसार परमार ने अपने कार्यकाल में 25 से 30 लाख की सैलरी पाई है, लेकिन असल में इनकी संपत्ति अभी तक 1000 गुना अधिक है। इसके साथ ही इस कार्रवाई में यह पता लगा है कि सहायक शिक्षक के पास एक दर्जन से अधिक कॉलेज एक मैरिज गार्डन एक स्कूल भी है, वहीं शिक्षक नर्सिंग कॉलेज भी चलाते हैं। 

रिपोर्टस के मुताबिक सत्यम टॉवर स्थित जिस आलीशान फ्लैट में परमार रहता था, उसकी कीमत करोड़ों में है। परमार के ठिकाने से कई चेकबुक और अन्य अहम दस्तावेज भी बरामद हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.