अब बंद होगा कोरोना का कॉलर ट्यून, एक अप्रैल से हो सकता है फैसला  

मुंबी- भारत में लॉकडाउन लगने के बाद से ही इस कॉलर ट्यून को सुना जा रहा है। आधिकारिक सूत्र ने कहा, स्वास्थ्य मंत्रालय अब देश में महामारी की स्थिति में सुधार के चलते इन ऑडियो क्लिप को हटाने पर विचार कर रहा है, जबकि महामारी के खिलाफ सुरक्षा उपायों के बारे में लोगों को जागरूकता फैलाने के अन्य उपाय जारी रहेंगे।  

दरअसल, सरकार को कई ऐसे एप्लीकेशन मिले हैं, जिसमें कहा गया है कि ये संदेश अपने उद्देश्य को पूरा कर चुके हैं और कई बार इमरजेंसी की स्थिति के दौरान महत्वपूर्ण कॉल में देरी होती है। शुरुआती दौर में कोरोना कालर ट्यून में बॉलीवुड के सुपरस्टार अमिताभ बच्चन की आवाज दी गई थी। कॉलर ट्यून के जरिए बिग बी कोरोना से बचाव और सावधानियों के बारे में बता रहे थे।  

इसके बाद जसलीन भल्ला ने कालर ट्यून में अपनी आवाज दी थी। इसमें कोविड 19 वैक्सीनेशन ड्राइव के बारे में बताया जा रहा था। इसमें कहा जा रहा था – नया साल कोविड- 19 की वैक्सीन के रूप में नई आशा की किरण लेकर आया है। कॉलर ट्यून में आगे सुनाई देता है, भारत में बनी वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है। भारतीय वैक्सीन पर भरोसा करें, अफवाहों पर भरोसा ना करें। 

देश में नए कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में आज बड़ी गिरावट आई है। पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 1,270 नए मामले सामने आए हैं और 31 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई है। देश में कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 4,30,20,723 हो गई है और अब तक कुल 5,21,035 मरीजों की मौत हो चुकी है।  

कोरोना संक्रमण के खतरे को कम करने के लिए वैक्सीनेशन पर जोर दे रही है। अब तक वैक्सीनेशन का आंकड़ा 1,83,26,35,673 पहुंच गया है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, 27 मार्च तक कुल 78,73,55,354 सैंपल टेस्ट किए गए हैं। वहीं 27 मार्च को 4,32,389 सैंपल टेस्ट किए गए हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.